Published On : Tue, Jun 15th, 2021

गोंदिया: रेलवे ई- टिकट का कालाबाजारी , 2 सेंटरों पर छापा

रेलवे पुलिस ने 2 दलालों से बरामद किए 45 ई- टिकट

गोंदिया। प्रतिदिन करोड़ों लोग भारतीय रेलवे से सफर करते है, एैसे में रेलवे द्वारा आइआरसीटीसी के माध्यम से यात्रियों को ई-टिकट की सुविधा उपलब्ध करायी गई है इसके लिए बकायदा आइआरसीटीसी के एजेंट भी नियुक्त किए गए है, जो निर्धारित कमीशन के आधार पर यात्रियों को टिकट उपलब्ध करा सकते है लेकिन इस सुविधा का गलत इस्तेमाल गोंदिया जिले में हो रहा है।

आईआरसीटीसी के माध्यम से फर्जी आईडी बनाकर कई दलाल और अधिकृत एजेंट ई-टिकट का काला कारोबार कर रहे है।
इस काले कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए गोंदिया रेलवे पुलिस ने अभियान छेड़ दिया है और लगातार ई-टिकट दलालों के खिलाफ धरपकड़ कार्रवाई की जा रही है।

चलाये जा रहे अभियान के तहत 15 जून मंगलवार को दो जगह धरपकड़ करते हुए 2 दलाल रेलवे पुलिस के हत्थे चढ़ गये।

उच्च अधिकारियों के मार्गदर्शन में रेलवे सुरक्षा बल गोंदिया के अपराध गुप्तचर शाखा के निरीक्षक अनिल पाटिल , उपनिरीक्षक के.के. दुबे, प्रधान आरक्षक आर.सी. कटरे की टीम ने गोपनीय जानकारी मिलने के बाद 15 जून को कार्रवाई करते हुए दवनीवाड़ा थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम नवेगांव के सेंटर पर छापामार कार्रवाई करते हुए अनिल नामक एक व्यक्ति को रेलवे ई-टिकट के अवैध कारोबार के जुर्म में गिरफ्तार किया।

बताया जाता है कि, आरोपी अनिल यह आईआरसीटीसी का अधिकृत एजेंट है बावजूद उसके वह अधिक मुनाफा कमाने की लालच में स्वंय के नाम की पर्सनल आईडी से रेलवे आरक्षित ई-टिकिट बनाकर व्यवसाय कर रहा था। तलाशी में उसके द्वारा बनाई गई 16 नग ई-टिकिट (कीमत 11,344 रूपये) बरामद की गई।

बहरहाल उक्त आरोपी के खिलाफ अ.क्र. 369/2021 की धारा 143 रेल अधिनियम के तहत गोंदिया रेलवे पुलिस में मामला दर्ज किया गया है तथा उसे 16 जून बुधवार को रेलवे न्यायालय नागपुर के समक्ष पेश किया जाएगा।

इस प्रकार की दुसरी कार्रवाई 15 जून को रावणवाड़ी इलाके में की गई। गोपनीय जानकारी मिलने पर मंडल सुरक्षा आयुक्त पंकज चुघ, सहायक सुरक्षा आयुक्त एस.डी. देशपांडे (आरपीएफ नागपुर) के मार्गदर्शन तथा आरपीएफ पोस्ट गोंदिया के प्रभारी निरीक्षक नंदबहादूर के नेतृत्व में आरपीएफ गोंदिया के उपनिरीक्षक मयंक मिश्रा, प्रधान आरक्षक राजेंद्र रायकवार, पी. दलाई, एन.ई. नगराले, आरक्षक नासीर खान, प्रधान आरक्षक एस.के. नेवारे की टीम ने रावणवाड़ी इलाके के आलिया टूर एंड ट्रेवल्स नामक दुकान में दबिश दी, जहां संचालक सिद्धार्थ वैद्य की मौजूदगी में दुकान में रखे लैपटाप की तलाशी ली गई तो उसमें 4 फर्जी पर्सनल आईडी से अवैध रूप से बनायी गई कुल 29 नग ई-टिकट बरामद हुई, जिनका मूल्य 18,947 रूपये आंका गया है।
दुकान संचालक की स्वीकारोक्ति बयान पश्‍चात कार्रवाई करते हुए उसके खिलाफ रेल अधिनियम की धारा 143 के तहत गोंदिया रेलवे पुलिस में अपराध दर्ज किया गया है।

रवि आर्य