Published On : Tue, Jun 15th, 2021

गोंदियाः फल फूल रहा है हवाला कारोबार का नेटवर्क, लाखों की नकदी के साथ युवक पकड़ाया

रेलवे पुलिस ने धरदबोचा, मामले की छानबीन में जुटा आयकर विभाग

गोंदिया। गोंदिया जिले में हवाला कारोबार का नेटवर्क बड़े पैमाने पर फैला हुआ है। हवाला के जरिए ना सिर्फ लाखों बल्कि करोड़ों रूपये की हेराफेरी की जाती है और यह सारा खेल नोट के सीरियल नंबर के आधार पर खेला जाता है। इस कारोबार में इंकम टैक्स के साथ-साथ कारोबारी का जीएसटी भी बचता है।

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से लेकर दिल्ली, चैन्नई, कलकत्ता, मद्रास, नागपुर सहित देश के सभी बड़े शहरों तक पैसा हवाला कारोबारियों की मदद से व्यापारी अपने पार्टीयों को पहुँचाते है। इसके लिये शहर की दूरी के हिसाब से 1 लाख पर 400 से 500 रू. का कमीशन लिया जाता है।

एैसे ही एक मामले का पर्दाफाश रेलवे पुलिस ने करते हुए बड़ी रकम बरामद करने में सफलता अर्जित की है।

वाक्या कुछ यूं है कि, गोंदिया रेलवे स्टेशन पर अपराधिक व संदिग्ध गतिविधियों की रोकथाम हेतु रेलवे स्टेशन परिसर व प्लेटफार्म पर विशेष निगरानी रखी जा रही है। इसी के तहत 15 जून मंगलवार को पुलिस निरीक्षक संदीप गोंडाने, पोउपनि प्रवीण भिमटे, पो.ह. मनोज गुप्ता, पो.का. चंद्रकांत भोयर, कुणाल गिरनतवार की टीम प्लेटफार्म नं. 1 पर गश्त में जुटी थी।

इसी बीच मेन गेट बुकिंग ऑफिस के सामने से नीले रंग की फुल बाह की शर्ट पहने व नीले रंग का जिन्स धारण किए हुए एक युवक पर पुलिस टीम की नजर पड़ी जिसके कंधे पर एक काले रंग का बैग लटका हुआ था, इससे पहले कि, पुलिस टीम उसे रूकने का इशारा करती वह पुलिस से नजर बचाकर भागने का प्रयास करने लगा जिसे पुलिस टीम ने तत्काल घेर लिया।

पूछताछ में उसने अपना राजकुमार देवागंन (रा. शीतला मंदिर गली शंकरपुर, राजनंदगांव छ.ग) बताया।

पुलिस टीम ने जब बैग की तलाशी ली तो उसमें 100, 200, 500 तथा 2 हजार रूपये के नोटों के बंडल पाए गए। रकम के संदर्भ में पूछताछ करने पर वह किसी भी प्रकार का समाधानकारक जवाब नहीं दे पाया लिहाजा उसे रेलवे पुलिस स्टेशन लाया गया और पंच-गवाहों के समक्ष नोटों की गिनती की गई। कुल रकम 8 लाख 90 हजार 750 रूपये पायी गई लेकिन नगदी पैसों के संबंध में उसके पास कोई भी वैद्य प्रमाण और लेन-देन हेतु लेखा-जोखा मौजूद नहीं था लिहाजा उक्त व्यक्ति का बयान दर्ज कर रेलवे रूट के माध्यम से अवैध रूप से नगदी रूपयों की हवाला के जरिए तस्करी के संदेह के आधार पर उसे आगे की कार्रवाई हेतू गोंदिया आयकर विभाग के सुपुर्द किया गया है।

उक्त कार्रवाई पुलिस अधीक्षक (लोहमार्ग नागपुर) एम. राजकुमार, अपर अधीक्षक वैशाली शिंदे, उपविभागीय पुलिस अधिकारी एस.वी. शिंदे तथा प्रभारी अधिकारी संदीप गोंडाने के मार्गदर्शन में उपनिरीक्षक प्रवीण भिमटे, मनोज गुप्ता, संजय नेवारे, किशोर ईश्‍वर, अरूण गोंदाडे, अजय बर्वे, चंद्रकांत भोयर, कुणाल गिरनतवार, धिरज घरडे, सुनिता मड़ावी आदि की ओर से की गई।

रवि आर्य