| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Sep 15th, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    नोटबंदी के बाद पुराने नोट बदलवाने के चार आरोपियों को मिली ज़मानत

    File Pic


    नागपुर: नोटबंदी के बाद बंद हुए नोटों को बदलवाने के आरोप में पकड़े गए गए चार आरोपियों को शुक्रवार को जिला सत्र न्यायालय से ज़मानत मिल गयी। 1 अगस्त 2017 को कोराडी थानांतर्गत आने वाले मनकापुर इलाक़े के एक अपार्टमेंट से नागपुर पुलिस की अपराध शाखा ने 97 लाख रूपए के पुराने नोट जप्त किये थे। इसी मामले से जुड़े अन्य चार आरोपियों को शुक्रवार को जिला सत्र न्यायालय से जमानत मिल गयी। जज विभा इंगले ने इन सभी आरोपियों को 20 हजार रूपए के मुचलके पर अग्रिम ज़मानत दे दी है।

    पुलिस को प्राप्त गुप्तसूचना के आधार पर अपराध शाखा के उपायुक्त संभाजी वाघचौरे के नेतृत्व में पुलिस दल ने राणा अपार्टमेंट में छापा मारा था। मामले में तफ्तीश के बाद प्रसन्ना पारधी के साथ अन्य चार आरोपियों को गिरफ़्तार किया गया था। जबकि ऋषि खोसला,कुमार छुगानी,डॉ सुभास खंडारे और जोएब नादिर फ़रार थे इस सब के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। हालांकि इन चारो ने बाद में अंतरिम जमानत ले ली थी। आरोपियों के पास से पुलिस को 97 लाख 50 हजार के बंद हो चुके पुराने नोट भी बरामद हुआ थे। शुक्रवार को जमानत हासिल करने वाले आरोपियों के खिलाफ ईपीसी की धारा 420,342,553,188 के तहत कोरड़ी थाने में मामला दर्ज है।

    अदालत में ऋषि खोसला और कुमार छुगानी की तरफ से एडवोकेट श्याम देवानी और हितेश खंडवानी ने जबकि जोएब नादिर की तरफ से रणजीत शारदेय के साथ डॉ सुभास खंडार की तरफ से विपिन बावरे ने पैरवी की थी।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145