Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Apr 9th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    अन्नामृत फाउंडेशन द्वारा प्रतिदिन 4500 जरूरतमंदों को भोजन

    नागपुर – अंतरराष्ट्रीय कृष्ण भावनामृत संघ (इस्कॉन) के अन्नामृत फाउंडेशन (इस्कॉन फ़ूड रिलीफ फाउंडेशन) द्वारा कोरोना की वजह से अलग अलग केंद्रों में रहने वाले गरीब लोगों को मोयल लि. की तरफ से 2000 प्लेट भोजन प्रतिदिन वितरित किया जा रहा है। इसके अलावा 2500 प्लेट भोजन अलग अलग दान दाताओं के सहयोग से वितरित किया जा रहा है। कुल 4500 प्लेट भोजन का वितरण प्रति दिन हो रहा है।

    यह भोजन कलमना मार्केट के पास रामानुज नगर स्थित अन्नामृत फाउंडेशन के श्री गोविन्ददास सर्राफ (तुमसरवाले) सेंट्रलाइज्ड किचन में बहुत ही हाइजेनिक तरीके से तैयार किया जा रहा है। महानगर पालिका के एडिशनल कमिश्नर श्रीराम जोशी ने मिड डे मिल के ऑफिसर गौतम गेडाम के साथ आकर इस सेंट्रलाइज्ड किचन का अचानक निरीक्षण किया। उस समय अन्नामृत फाउंडेशन के कार्यकारी व्यवस्थापक केशव पोपलघट मौजूद थे। अत्याधुनिक किचन में किस प्रकार साफ सफाई एवं हाइजेनिक तरीके से भोजन बनाया जा रहा है इसको देख कर उन्होंने काफी प्रशन्नता जाहिर की। वे इतने प्रभावित हुये कि उन्होंने गरीबों के लिये स्वयं ने भोजन पकाया। तथा वितरण की प्रणाली का जायजा किया। रसोई की भोजन बनाने की क्षमता देख कर भी काफी प्रभावित हुये। इसकी क्षमता प्रतिदिन 75000 से 100000 प्लेट भोजन बनाने की है।

    अन्नामृत फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ. श्यामसुंदर शर्मा ने बताया कि दानदाताओं का भरपूर सहयोग मिल रहा है। विशेषतौर पर मोयल लिमिटेड के चेयरमैन एंड मैनेजिंग डायरेक्टर, मुकुंद पी. चौधरी, प्रोडक्शन एंड प्लानिंग डायरेक्टर डी. एस. शोम, फाइनेंस डायरेक्टर राकेश तुमाने, ह्यूमन रेसौर्सेस डायरेक्टर उषा सिंह, सीएसआर इंचार्ज गोपाल भट्टाचार्जी, आदि ने 2000 प्लेट भोजन (लंच एवं डिनर,) की व्यवस्था के अलावा एक बिल्कुल नई बोलेरो पिकअप भोजन वितरण की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुये उसकी बॉडी में आवश्यक परिवर्तन करवा कर अन्नामृत फाउंडेशन को दान में दी।

    इस वजह से भोजन वितरण का कार्य काफी सुचारू रूप से चल रहा है। महानगर पालिका की तरफ से जो भोजन वितरण के लिए जो एरिया दिया गया है उसमें प्रमुख रूप से नेहरू नगर, लकडगंज, कलमना घाट, डिप्टी सिग्नल, भांडेवाड़ी, हंसापुरी, सीताबर्डी, जयताला, आसिनगर इत्यादि के केम्प जहाँ बेघर, मजदूर, गरीब लोगों के रहने की सुविधा की गयी है वहां पर भोजन वितरण का काम अन्नामृत फाउंडेशन कर रहा है।

    डॉ. शर्मा ने यह भी बताया कि बाकि 2500 प्लेट भोजन का वितरण गरीबों एवं जरूरतमंदों को किया जा रहा है उनके दानदाता है एच. एच. भक्ति भृंग गोविंद गोस्वामी महाराज, आवर्त क्लब नागपुर, सारड़ा इमेजिंग एंड पैथोलॉजी के डॉ. मधुसुदन सारड़ा एवं डॉ. स्वाति सारड़ा, सोमानी हॉस्पिटल के डॉ. अरुण सोमानी, डॉ. अजय साखरे, डॉ. अतुल सोमानी, डॉ. अर्चना सोमानी, डॉ. आशीष तिखिले, अभिजीत रियल्टर्स एंड इंफ्रास्ट्रक्चर के अभिजीत मजुमदार, अमा इंडस्ट्रीज के इकबाल भाई मैमून, संजय राठी, प्रफुल्ल नंदा, इंदिरा चंद्रशेखरन इत्यादि।

    इस प्रोजेक्ट को सफल बनाने के लिए जो लोग मेहनत कर रहे है उनमें प्रोजेक्ट डायरेक्टर्स राजेंद्रन रामन, भगीरथ दास, प्रवीण साहनी के अलावा केशव पोपलघट, सागर तांडेकर, निताई देवोनार, जितेंद्र सलाने एवं उनके कई सहयोगी।

    डॉ. श्यामसुंदर शर्मा
    चेयरमैन, अन्नामृत फाउंडेशन, नागपुर


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145