Published On : Wed, Dec 3rd, 2014

बुलढाणा : विचारों का आतंकवाद खत्म करें


‘एक शाम शहीदों के नाम’ मुशायरा में डीवाईएसपी शेख का आह्वान

aangwad
बुलढाणा।
26/11 को मुंबई पर आतंकवादियों द्वारा किया गया हमला के 6 वर्ष हो गये हैं. शहीदों का स्मरण और राष्ट्रभक्ति की भावना जागृत करने के उद्देश्य से आजाद हिन्द संगठन ने आयोजित मुशायरा ‘एक शाम शहीदों के नाम’ में देशभक्ति का रंग बिखेरे. इसी तरह अन्य धर्मों का भी आदर किया गया तो अपने आप विचारों का आतंकवाद समाप्त हो जाएगा. ऐसे मौलिक संदेश मुशायरा के उद्घाटन करते हुए डीवाईएसपी समीर शेख ने दिया.

अवसर पर बुलढाणा अर्बन के सहकार सेतु सभागृह में प्राचार्य शाहिना पठाण, डॉ. शाहेदा मुनाफ, समाजसेवक हारूण मास्टर, आजाद हिन्द संगठन के संस्थापक अध्यक्ष एड. सतीशचंद्र रोठे, पत्रकार रणजीत सिंह राजपूत, होमियोपैथ के विशेषज्ञ डॉ. दुर्गा सिंह जाधव, संगठन की महिला प्रमुख ज्योति अवसरमोल, जिलाध्यक्ष शहजाद नवाब मंच पर उपस्थित थे.

उन्होंने विचार व्यक्त करते हुए आगे कहा कि विभिन्न धर्मों के चुनाव होते हैं. मुख्य उद्देश्य छोड़कर एक-दूसरे पर दोषारोपण कर अपनी शक्ति का प्रदर्शन करने झूठी चुनाव प्रचार में किया जाता है. हमारे बीच द्वेष का फायदा दुश्मन उठाते हैं. इसलिए सभी मिलकर रहें. एकता बनाए रखें. हारूण मास्टर ने शुभकामनाएं देकर राष्ट्रभक्ति पर शेर सुनाई. प्रमुख अतिथि डॉ. शाहेदा मुनाफ ने कविता प्रस्तुत कर उपस्थितों का जीत लिया. उसके बाद पत्रकार रणजीत सिंह राजपूत ने समाज में शांति के प्रयासरत आजाद हिन्द संगठन के उपक्रम की भूरि-भूरि प्रशंसा कर सकारात्मकता बनाये रखने का अपील की.