Published On : Wed, Aug 14th, 2019

Video: नागपुर शहर में दिन दहाड़े देश की सुरक्षा करने वाले फौजी के साथ मारपीट, पुलिस को खुली चुनौती देता अपराधी

नागपुर- देश की सेना के एक फौजी के साथ मारपीट करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जानकारी के अनुसार यह वीडियो गिट्टीखदान परिसर का है. फौजी के साथ गालीगलौज और मारपीट करनेवाले आरोपी का नाम रोशन शेख है. मारपीट करते हुए उसी के गैंग के लड़कों ने यह वीडियो बनाया है.

कुख्यात गुंडा रोशन शेख जो कि पहले ही वाडी पुलिस स्टेशन में 354,323,506 के एक केस में फरार चल रहा है और हमेशा कई आपराधिक वारदातों से सुर्खियीं में रहता है, रोशन ने खुद एक वीडियो वायरल किया है जिसमे वो एक फौजी को गंदी गंदी गालियां दे रहा है. उसके फौजी होने पर गालियां देते हुए सरेआम मारपीट कर रहा है.

सूत्रों के अनुसार रोशन शेख का ये पुराना तरीका है आम लोगो पर दहशत कायम रखने का ,जब भी वो कोई अपराध करता है तो अपने ही गैंग के सदस्यों को यह वीडियो बनाने लगाता है और उस वीडियो को खुद ही वायरल कराता है ताकि उसकी दहशत बनी रहे. इससे पहले भी लॉ कॉलेज चौक पर एक चर्चित होटेल को उसने जलाया था उसके भी फोटो सोशल मीडिया पर उसने वायरल किए थे.

सूत्रों के अनुसार यह नया वीडियो गिट्टीखदान के क्षेत्र का है जहां पार्किंग को लेकर रोशन शेख ने फौजी के साथ जानभुजकर झगड़ा किया.

यह वीडियो उसी के गिरोह के अपराधी ने बनाया और रोशन ने मिलकर इस वीडियो को वायरल किया.

शहर में इन अपराधियो की हिम्मत इतनी बढ़ गयी है कि अभी तक यह आम आदमी को परेशान करते थे. अब यह देश के फौजियों को भी नही छोड़ रहे. मुख्यमंत्री के शहर में इस तरह की वारदात पर पुलिस विभाग चुप्पी साधे बैठा है .

जानकारी के अनुसार रोशन शेख पर सीताबर्डी पुलिस स्टेशन,अंबाझरी, वाडी, सदर, गिट्टीखदान में मारपीट, धमकाने और होटल जलाने के केसेस दर्ज है और पुणे एयरपोर्ट के पुलिस स्टेशन में बैग चोरी करने के केस दर्ज है. ज्यादातर अपराध यह होटल संचालकों के साथ करता है और फिरौती वसूलता है और पैसे ना देने पर होटल जलाने की धमकी या फिर जो पार्टियां होटल में होती है उन्हें खराब करने की धमकी देता है.

हाल ही में सदर पुलिस स्टेशन अंतर्गत पेबलो नामक होटल में रोशन ने ऐसे ही तोड़ फोड़ कर धमकी दी थी तो क्राइम ब्रांच ने रोशन को अच्छा सबक सिखाया था. उसके बावजूद वाडी के होटल में इसने एक महिला के साथ छेड़खानी कि थी और उसके साथी के साथ मारपीट कर उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी. जिसमें इसके गिरोह के और लोग भी शामिल थे.

इतने अपराध दर्ज होने के बावजूद आज तक कोई प्रतिबंधक कार्रवाई जैसे एमपीडीए या मकोका जैसे अपराध में इसका और इसके गिरोह का गिरफ्तार ना होना अपने आप मे एक जांच का विषय है. पुलिस अगर कड़ाई से जांच करे तो कई शिकायतकर्ता सामने आ सकते है इस गिरोह के खिलाफ.

आम लोगो मे जबसे यह वीडियो वायरल हुआ है उनमे गुस्सा दिखाई दे रहा है. लोगो के भीतर देश के एक फौजी के अपमान को लेकर गुस्से की भावना जागृत हुई है .अगर पुलिस रोशन शेख और उसके गिरोह पर जल्द से जल्द कोई कार्रवाई नही करती है तो अक्कू यादव हत्याकांड जैसा अपराध होने में देर नही लगेगी.