Published On : Sat, Nov 22nd, 2014

वर्धा : अंधश्रद्धा निर्मुलन के सदस्य ही हत्यारों के सहयोगी?

Advertisement


वर्धा।
शहर के वडार बस्ती के शालेय बालक रुपेश मुले की नरबलि देकर हत्या की गई थी. इस घटना में 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. इन आरोपियों में से एक शिक्षक है तथा जिस स्कूल में शिक्षक कार्यरत है वहां के व्यवस्थापन के परिवार का एक सदस्य अंधश्रद्धा निर्मुलन समिती का सदस्य है.

विदर्भ की राजनीति में इस परिवार के सदस्य अलग-अलग राजनीति पार्टी में सक्रिय भुमिका निभा रहे है. परिवार की प्रमुख महिला वर्धा नगराध्यक्ष पद पर है. अपना स्वार्थ पूरा करने के लिए यह लोग किसी भी हद तक जा सकते है और जनता को कैसे झांसे में लेना है इसका तंत्र भी इनको पता है.

black magic

Representational pic

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement