Published On : Sat, May 16th, 2020

किसानों के खेतों तक(बांधो तक)पहूंचाया जायेगा खाद

कृषी अधिकारी सुरेश कन्नाके

काटोल: कोव्हिड 19के संक्रमण से बचने के लिये कृषी केंद्रों पर होने वाली भीड रोकने के लिये राज्य सरकार के कृषिमंत्रालय द्वारा अपने विभाग के माध्यम से आगामी खरिफ फसल के लिये किसानों के किसान समुह केंद्र के तहत किसानों के खेतों तक खाद पहूंचाया जायेगा यह जानकारी काटोल तहसील के तहसील कृषी अधिकारी सुरेश कन्नाके द्वारा दी गयी.

किसानों द्वारा कृषी केंद्रों पर होने वाले भीड को कम करने के लिये काटोल तहसील के किसान समुह केंद्र के माध्यम से किसानों को अपने नांम अपने किसान समुह के ओर लिखाना (पंजिब्द कराना) होगा. यहां के किसानों के नाम आत्मा योजना के तहत पंजिबद्ध होने के पश्चात किसानों ने किये गये मांग के तहत किसान समुह अपने वाहन से मांग किये गये खाद को किसानों के खेतों तक(बांधो तक )आपुर्ती की जायेगी.

इसके प्रथम चरण का प्रारंभ के लिये मेंढेपठार(बा)के जय बजरंग स्वंय सहायता बचत गट द्वारा3.05मे.टन रासायनिक खाद की पहली खेप काटोल के जय भारत एर्गो सर्ह्विसेस कृषी केंद्र से खरीदी गयी हैं तथा जय बजरंग स्वंय सहायता बचत गट के ओर पंजिबद्ध किसानों के खेतों तक पहूंचने के लिये भरे गये वाहन को नागपुर जिल्हापरिषद के पुर्व उपाध्यक्ष चंद्रशेखर चिखले ने तहसील कृषी अधिकारी सुरेश कन्नाके बी डी यो सुनील साने, पं स के कृषी अधिकारी लोखंडे, कृषी मंडल अधिकारी बोंदरे, तथा कृषी सहायक इंगोले के उपस्थित में 16मई को हरी झंडी दिखाकर इस योजना का काटोल तहसील में प्रारंभ किया गया.

मेंढेपठार(बा)के जय बजरंग स्वंय सहायता बचत गट द्वारा3.05मे.टन रासायनिक खाद की पहली खेप काटोल के जय भारत एर्गो सर्ह्विसेस कृषी केंद्र से खरीदी गयी हैं तथा जय बजरंग स्वंय सहायता बचत गट के ओर पंजिबद्ध किसानों के खेतों तक पहूंचने के लिये भरे गये वाहन को नागपुर जिल्हापरिषद के पुर्व उपाध्यक्ष चंद्रशेखर चिखले ने तहसील कृषी अधिकारी सुरेश कन्नाके बी डी यो सुनील साने, पं स के कृषी अधिकारी लोखंडे, कृषी मंडल अधिकारी बोंदरे, तथा कृषी सहायक इंगोले के उपस्थित में 15मई को हरी झंडी दिखाकर इस योजना का काटोल तहसील में प्रारंभ किया गया. कृषी अधिकारी सुरेश कन्नाके ने बताया की काटोल तहसील में अबतक 22किसान स्वंय सहायता बचत गटो ने आत्मा के ओर पंजिबद्ध किये है.