Published On : Sat, Dec 17th, 2016

बिगड़े टोन को सुधारना होगा : रावसाहब दानवे

raosahab-danve
नागपुर:
शिवसेना की ओर से गठबंधन सरकार पर लगातार किए जा रहे हमलों पर पलटवार करते हुए महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष राव साहब दानवे ने कहा कि कुछ टोन तो बिगड़ा हुआ है। उसे सुधारना पड़ेगा। हम चुनाव में अकेले लड़ने के लए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि जो पार्टी सत्ता में गठबंधन पार्टी के विधायक मंत्री सरकार पर हमला नहीं करते। कोई सरकार अच्छा काम नहीं करती तो कैबिनेट मीटिंग में इसकी चर्चा की जाती है। लेकिन फिर भी जो हमले हो रहे हैं उसे सुधारना पड़ेगा।

मुझे ऐसा लगता है कि ‘उनका’(शिवनेना) का भी टोन सुधरेगा। किसका टोन बिगड़ा हुआ है यह पूछे जाने पर जवाब मिला जिसके बारे में आप पूछ रहे हैं ( अर्थात शिवसेना का)। विभिन्न चुनावों से पूर्व भाजपा – शिवसेना गठबंधन को लेकर मीडिया के सामने दिया गया बयान गठबंधन वार्ता में असर डाल सकता है। वे सहयोगी दल शिवसेना के साथ शुक्रवार को हुई विधायकों के साथ बैठक में के चर्चा के मुद्दों को बता रहे थे। श्री दानवे ने हालांकि मंत्रियों के साथ किसी भी प्रकार की कोई खटास की बात से इंकार किया।

उन्होंने कहा कि चुनाव गठबंधन में ही लड़ेंगे ऐसी कोई मजबूरी भाजपा की नहीं है। हमारी ओर से पहले ही यह साफ कर दिया गया था हम साथ लड़ने के लिए तैयार हैं अगर कोई साथ नहीं लड़ना चाहता तो हम अकेले लड़नेवाले हैं। हमारी कोई मजबूरी नहीं है। हम अपनी पार्टी को बढ़ना चाहते हैं और वे अपनी। कल विधायक दल की बैठक के दौरान गठबंध के लिए कहा गया था। उस बैठक में हमने साफ कर दिया था कि अगर गठबंधन हुआ तो साथ लड़ेंगे वर्ना अपने बलबूते चुनाव लड़ने की तैयारी की जाएगी और चुनाव जीतेंगे भी।

भारतीय जनता पार्टी जनता पार्टी हर स्तर पर शिवसेना के साथ गठबंधन के लिए तैयार है। ऐसे में शिवसेना की ओर से प्रस्ताव आया था कि अगर गठबंधन करना है तो फिर मुंबई महानगर पालिका चुनाव से लेकर सभी स्तर के चुनावों में गठबंधन होना चाहिए। लेकिन भाजपा की ओर से प्रस्ताव दिया गा था कि जहां जहां स्थानीय स्तर पर जिला इकाइयां गठबंधन के लिए तैयारी दिखा रही है वहां गठबंधन कर लेना चाहिए लेकिन जहां जिला स्तर पर गठबंधन की तैयारी नहीं बन रही वहां अकेले चुनाव लड़ना चाहिए।