Published On : Tue, Apr 3rd, 2018

मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस की किसान पदयात्रा


नागपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस किसान पदयात्रा निकालने वाली है। 5 से 8 अप्रैल के दौरान पांढरकवडा से दाभाड़ी के बीच 90 किलोमीटर की पदयात्रा निकाले जाने की जानकारी मंगलवार को नागपुर में राज्य के पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवाजीराव मोघे ने दी। किसानो से विश्वासघात का आरोप लगाते हुए इस पदयात्रा का आयोजन किया जा रहा है। इसके अलावा इस पदयात्रा में किसान स्वावलंबन,रोजगार के साथ ऐसे 19 विषयों को लेकर मोदी सरकार का विरोध किया जायेगा जिनकी पूर्ति का आश्वाशन चुनाव प्रचार के दौरान मोदी की तरफ से दिया गया था।

मोघे ने बताया की लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मौजूदा प्रधानमंत्री मोदी ने यवतमाल जिले के दाभाड़ी में चाय पे चर्चा के दौरान कई तरह के वादे देश की जनता से किये थे। जो अब तक अधूरे ही है। इस वादों पर भरोषा कर किसान ने भरोसा कर बीजेपी को वोट दिया लेकिन पार्टी ही इन वादों को भूल गई। वर्तमान में हालत ये है की किसान आत्महत्या लगातार बढ़ रही है। सरकार की किसान विरोधी निति की वजह से यवतमाल,चंद्रपुर और आदिलाबाद इन तीन जिलों में पांच लाख एकड़ खेती की सिंचाई क्षमता बढ़ाने वाले निम्न पैनगंगा प्रकल्प 2014 से बंद पड़ा है। इसी के विरोध में यह पदयात्रा निकाली जा रही है। इस पदयात्रा के दौरान कई जगहों पर सभा का भी आयोजन किया जायेगा जिसमें पूर्व सांसद नाना पटोले,नेरश पुगलिया,विधायक विजय वडेट्टीवार,सांसद राजीव सातव,किसान नेता राजू शेट्टी किसानो को संबोधित करेंगे।