Published On : Tue, Jun 1st, 2021

किसानों को बकाया बोनस दें , रबी धान की खरीद के लिए जारी अन्यायपूर्ण सर्कुलर रद्द करें- डॉ परिणय फुके

खाद्य मंत्री को सौंपा ज्ञापन, किसानों के लिए सड़क पर संघर्ष की भाजपा ने दी चेतावनी

Advertisement

गोंदिया/ भंडारा । किसानों को बकाया बोनस के भुगतान, धान की उठान एवं रबी धान की खरीद एवं खरीफ सीजन शुरू होने से पहले जारी अन्यायपूर्ण सर्कुलर को तत्काल रद्द करने की मांग का निवेदन आज 1 जून सोमवार को विधायक डॉ. परिणय फुके ने खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल को सौंपा।

Advertisement

दिए प्रतिवेदन में कहा गया है कि- एक तरफ जहां पूरे राज्य में कोरोना कहर बरपा रहा है वहीं दूसरी तरफ किसान कोविड के कार्यकाल में संघर्ष कर रहे हैं।
पूर्वी विदर्भ अपने चावल के लिए प्रसिद्ध है, जिले में किसान वर्ष में दो फसलें खरीफ और रबी लेते हैं। चूंकि किसानों की आर्थिक रीढ़ धान का उत्पादन है, इसलिए उन्हें समय पर धान खरीदने और बोनस मिलने की उम्मीद रहती है।

Advertisement

समर्थन मूल्य आधार पर धान खरीद की पूरी प्रक्रिया केंद्र सरकार के दायरे में आती है। राज्य सरकार इसे एक नोडल एजेंसी के रूप में नियंत्रित करती है। लेकिन पिछले छह माह से राइस मिल मालिकों द्वारा खरीफ सीजन का अनाज (धान) गोदाम से कस्टम मिलिंग हेतु नहीं उठाया गया है। साथ ही किसानों को अभी तक खरीफ अनाज बिक्री का बोनस भी नहीं मिला है।

इसी तरह, जब रबी सीजन के धान की कटाई का समय था, तो सरकार ने 19 मई को एक तुगलक सर्कुलर आदेश जारी किया, जिसमें कहा गया था कि किसानों के लिए 31 मई तक अपने धान का पंजीकरण कराना अनिवार्य नहीं है। लिहाज़ा किसानों ने अपनी शिकायत विधायक डॉ. परिणय फुके से की।

विधायक फुके ने मंत्री छगन भुजबल से किसानों से धान की खरीद, बकाया बोनस पर चर्चा की साथ ही रबी सीजन धान की उठान के लिए जो 19 मई को परिपत्र जारी किया गया है उसको तत्काल रद्द करने की मांग की।

इस अवसर पर मंत्री छगन भुजबल ने आश्‍वासन दिया कि जल्द ही अधिकारियों की बैठक कर अनाज की तत्काल खरीद, अतिदेय बोनस और रबी सीजन धान की उठान के लिए जारी सर्कुलर को रद्द करने का निर्णय लिया जाएगा।

विधायक डॉ. परिणय फुके ने भी चेतावनी दी कि अगर खरीफ सीजन शुरू होने से पहले किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो हम किसानों के हितों के लिए सड़कों पर उतरने के लिए पीछे मुड़कर नहीं देखेंगे।

रवि आर्य

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement