| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Nov 29th, 2020

    सौदा पेंटहाउस का, थमाया फ्लैट, पीड़ित ने बिल्डर के खिलाफ दर्ज कराया मामला

    File Photo

    नागपुर- नागपुर शहर में प्रॉपर्टी खरीदने और बेचने के नाम पर धोखाधड़ी के काफी मामले सामने आ रहे है. कुछ मामलों में कार्रवाई होती है तो कुछ मामलों में बिल्डर साठगांठ करके मामले दबा देते है और जिनके साथ धोखाधड़ी की गई है, उन्हें डराते धमकाते भी है. ऐसा ही एक मामला प्रतापनगर पुलिस स्टेशन की हद में सामने आया है. जहां पर ग्राहक को पेंटहाउस देने की बात हुई, ग्राहक ने लाखों रुपया भी दिया, और बाद में ग्राहक को उसी बिल्डिंग में दूसरा फ्लैट देने की बात कही. जब ग्राहक ने इसपर आपत्ति जताई तो उसको धमकी दी गई.

    मिली जानकारी के अनुसार सोमलवाड़ा के रहनेवाले सूर्यकांत सिरसाट का छोटा भाई महेंद्र सिरसाट इटली में योगगुरु है.29 अगस्त 2016 को महेंद्र नागपुर आए थे. इसी दौरान सोमलवाड़ा स्थित जयप्रकाश नगर में एनरिको हाइट्स  ( enrico heights ) नामक प्रोजेक्ट का उन्होंने होर्डिंग देखा.उन्होंने बिल्डर वैभव जयपुरिया धंतोली निवासी और इसके प्रबंधक संजीव कौल से संपर्क किया.महेंद्र ने बिल्डिंग की 11वी और 12वी मंजिल पर फ्लैट खरीदने की इच्छा जताई. इस दौरान उन्हें बताया गया कि यहां पर पेंटहाउस है.इसके बाद महेंद्र और सूर्यकांत ने यह पेंटहाउस खरीदने की बात कही. उसी दिन 3 करोड़ रुपए में सौदा हुआ. सूर्यकांत और महेंद्र ने समय समय पर उन्होंने वैभव को 95 लाख रुपए दिए. इसके बावजूद उसने प्रॉपर्टी का अग्रीमेंट नही करके दिया. इसी दौरान 13 अगस्त 2018 को महेंद्र के नाम से सूर्यकांत को वैभव की कंपनी यूनिवर्सल डिक्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम से पत्र मिला. इसमें फ्लैट की बची रकम 1 करोड़ 46 लाख 50 हजार 681 रुपए जमा करने को कहा गया था. इस बारे में पूछने के लिए जब वे वैभव के पास पहुंचे तो उन्हें कहा गया कि वो हम आपको नही दे सकते, दूसरा दे सकते है, जबकि सौदा पेंटहाउस का हुआ था. जब सूर्यकांत ने पैसे वापस देने की बात कही तो वैभव ने मना कर दिया और कहा कि यह पेंटहाउस किसी और का है. जिसके बाद सूर्यकांत ने पुलिस मे शिकयत की बात कही  तो वैभव ने कहा कि पुलिस को भी मैं नही जानता, जो करना है, कर लो. इसके बाद त्रस्त और ठगी के शिकार पीड़ित सूर्यकांत ने प्रतापनगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145