Published On : Tue, Apr 17th, 2018

शहर के लिए पर्याप्त जल, जलापूर्ति की अड़चन नहीं

Knhan puping inspection
नागपुर: शहर में शुरू हुई गर्मी के साथ ही जल संकट को लेकर भले ही जनता में चिल्लाहट हो रही हो, लेकिन पूरी गर्मी में शहरवासियों को जलापूर्ति करने के लिए पर्याप्त जलसंचय उपलब्ध होने का दावा जलप्रदाय विभाग की ओर से किया जा रहा है. शहर को प्रतिदिन 640 एमएलडी की जलापूर्ति की जाती है, जिसमें से 270 एमएलडी पानी से मनपा को आय नहीं हो पा रही है.

अन्य शहरों की तुलना में प्रति व्यक्ति पानी की उपलब्धता संतोषजनक है. कार्यकारी अभियंता गायकवाड़ ने बताया कि 24 बाय 7 योजना में जलापूर्ति के लिए 64 कमांड एरिया निर्धारित किए गए हैं, जिसमें से 16 कमांड एरिया में योजना संचालित हो रही है. अन्य कमांड एरिया में कार्य प्रगति पर है.

Knhan puping inspection
दिसंबर 2018 तक इस योजना में 60 प्रतिशत कार्य पूरा हो जाएगा. सभापति झलके ने कहा कि शहरवासियों को पर्याप्त जलापूर्ति के लिए मनपा कटिबद्ध है, लेकिन पानी की बचत करना सभी के लिए अनिवार्य है. इसके लिए जनजागृति करने पार्षदों की भूमिका महत्वपूर्ण होने की जानकारी भी उन्होंने दी.

कन्हान जलशुद्धिकरण केंद्र के माध्यम से होनेवाली जलापूर्ति और कन्हान रिजरवायर में उपलब्ध पानी का जायजा लेने के लिए सर्वदलीय पार्षदों का दौरा किया गया. विभाग का मानना था कि शहर को वर्तमान में भी पर्याप्त जलापूर्ति हो रही है. इसके बावजूद पानी की भारी क्षति के कारण लोगों तक पानी पहुंचने में कुछ समय दिक्कतें आ रही है.

Knhan puping inspection
उपमहापौर दीपराज पार्डीकर, जलप्रदाय समिति सभापति विजय झलके, तानाजी वनवे, बाल्या बोरकर, कार्यकारी अभियंता (जलप्रदाय) संजय गायकवाड़, एनईएसएल के महाव्यवस्थापक डी.पी. चिटणीस, ओसीडब्ल्यू के संचालक के.एम.पी. सिंह, प्रवीण सरण, पूर्व सभापती राजेश घोडपागे, उपसभापती श्रद्धा पाठक, गांधीबाग झोन सभापती वंदना यंगटवार, हनुमाननगर झोन सभापती रूपाली ठाकूर, नेहरूनगर झोन सभापती रीता मुळे, धंतोली झोन सभापती विशाखा बांते, नगरसेवक भगवान मेंढे, राजेंद्र सोनकुसरे, किशोर जिचकार, मनोज सांगोळे, प्रदीप पोहाणे, अमर बागडे, दिनेश यादव, परसराम मानवटकर, गोपीचंद कुमरे, शेषराव गोतमारे, राजकुमार शाहू, संजय चावरे, नगरसेविका दर्शनी धवड, मंगला खेकरे, साक्षी राऊत, उज्ज्वला बनकर, भावना लोणारे, प्रणिता शहाणे, ममता सहारे, भारती बुंदे, सुमेधा देशपांडे, उज्ज्वला शर्मा, स्नेहल बिहारे, विद्या कन्हेरे, स्वाती आखतकर, वंदना भगत आदि उपस्थित थे.

खंडित जलापूर्ति : 11421
खंडित ग्राहकों पर बकाया : 91,54,75,335 रु.
नए कनेक्शन : 1,76,035
नया बकाया : 9,35,91,25,570 रु.