Published On : Tue, Apr 17th, 2018

गर्मागरम रहेगी २० को होने वाली मनपा की आमसभा

NMC Nagpur
नागपुर: नागपुर महानगरपालिका की अप्रैल माह की आमसभा में काफी महत्वपूर्ण विषयों का समावेश किया गया है. इसके साथ ही प्रश्नोत्तर समयावधि में विभिन्न पक्षों के नगरसेवकों द्वारा ज्वलंत प्रश्नों को उठाया जाएगा. इसमें रेलवे स्टेशन के पश्चिमी द्वारा व गणेश टेकड़ी मंदिर के मध्य की पुलिया ढहाने के प्रस्ताव को बहुमत के आधार पर सत्तापक्ष मंजूरी प्रदान कर सकती है.

विषय क्रमांक १५८ – मनपा में कार्यकारी अभियंता ( स्थापत्य) के रिक्त पद पर उपविभागीय अभियंता प्रदीप राजगिरे को पदोन्नत किया जाएगा.

विषय क्रमांक १५९- मनपा में रिक्त उपअभियंता (स्थापत्य) पद पर कनिष्ठ अभियंता व उपअभियंताओं को पदोन्नत किए जाएंगे. इनमें कनिष्ठ अभियंता अनिल गेडाम, सहायक अभियंता एन. शिंगनजोड़े, शाखा अभियंता वी. वी. कहालकर, शाखा अभियंता मोहम्मद शफीक, शाखा अभियंता डी.एस. बिसेन, शाखा अभियंता जे.एस.उमालकर का समावेश है.

विषय क्रमांक १६०- पूर्व सांसद अविनाश पांडे के सांसद निधि से मनपा को दी गई दो शववाहिका सालभर से कारखाना विभाग में खड़ी थी, नागपुर टुडे ने इस ओर प्रशासन का ध्यानाकर्षण करवाया. प्रशासन ने इन दोनों शववाहिका को मुक्ति श्रद्धांजलि कल्याणकारी सेवा संस्था को देने का प्रस्ताव लाया है. उक्त वाहन का सम्पूर्ण खर्च उक्त संस्था वहन करेगी.

विषय क्रमांक १६१- शासन निर्देश पर भांडेवाडी के एसटीपी में आसपास के नगरपरिषद आदि जहाँ एसटीपी नहीं है, वहां की गंदगी को डी-स्लडिंग व ट्रांसपोर्ट कर प्रक्रिया करने के प्रस्ताव पर निर्णय लिया जाएगा.

विषय क्रमांक १६२- नागपुर शहर में शुरू/प्रस्तावित नए-नए प्रकल्पों के लिए विभिन्न देशों के साथ मनपा का सामंजस्य करार करने के मामले के प्रस्ताव को मंजूरी दी जाएगी.


विषय क्रमांक १६३- लाड पागे समिति की शिफारिश के अनुसार सफाई कामगारों के वारिशों में से १८ लाभार्थियों को उम्र ज्यादा होने के कारण नौकरी में समाहित नहीं की गई. इस मामले के सन्दर्भ में मनपा प्रशासन व सत्तापक्ष इस आमसभा में ठोस निर्णय लिया जाएगा.

विषय क्रमांक १६४- ज़ीरो माइल के पीछे मनपा की जगह ( तिकोना आकार का ) मेट्रो रेल विकास के लिए देने के मामले सन्दर्भ विषय आमसभा में मंजूरी दी जाएंगी.

विषय क्रमांक १६५ – धंतोली ज़ोन अंतर्गत प्रभाग १७ दलित वाचनालय के समीप सार्वजानिक शौचालय तोड़ने का प्रस्ताव को सकारात्मक सहमति दी जाएंगी.

विषय क्रमांक १६६ – धंतोली जोन के प्रभाग १७ अंतर्गत महात्मा गांधी कुंए के करीब पुराने सार्वजानिक शौचालय तोड़ने के प्रस्ताव को सहमति प्रदान की जाएंगी.

विषय क्रमांक १६७ – शांति नगर स्थित मनपा शाला की इमारत शांतिनगर पुलिस थाने को ११-११ माह के करार पर ९७१९५ रूपए मासिक किराये पर देने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की जाएंगी।करार के अनुसार प्रत्येक वर्ष १०-१० % किराए में वृद्धि भी होगी.

विषय क्रमांक १६८ – सहायक आयुक्त विजय हुमने सह अन्य निलंबित अधिकारियों का निलंबन कायम रखने का आश्चर्यजनक प्रस्ताव आमसभा में लाया जाना समझ से परे है. हुमने ने अपने साथी कर्मी के लिए ‘गड्ढा खोदने’ के लिए एक पूर्व पदाधिकारी के कान भरे, इस चक्कर में हुमने ही शहीद(निलंबित) हो गए. अब संयुक्त रणनीति कर जब निलंबन रद्द करवाने की कोशिशें की तो प्रशासन या सत्तापक्ष या फिर दोनों की सहमति से निलंबन कायम रखने के प्रस्ताव आमसभा में लाया जाना आश्चर्य व्यक्त की जा रही है.

विषय क्रमांक १६९- गोधनी ग्रामपंचायत को मनपा द्वारा जलापूर्ति करने का प्रलंबित मामला आमसभा में चर्चा के लिए आया.

विषय क्रमांक १७०- मौजा वडपाखड अंतर्गत मनपा की ६२८९।९० वर्ग मीटर जगह मेट्रो को सशर्त देने के विषय को मंजूरी दी जाएगी.

विषय क्रमांक १७१- मौजा वाठोडा की २.५७ एकड़ अतिरिक्त जगह स्किल ट्रेंनिंग सेंटर स्थापित करने के लिए लार्सन एंड टुब्रो को देने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की जाएगी.

विषय क्रमांक १७२- मेट्रो रेल के लिए सेंट्रल एवेन्यू स्थित खोआ बाजार से लेकर कॉटन मार्किट तक बायीं ओर की जगह देने का प्रस्ताव को सहर्ष मंजूरी दी जाएगी. जगह खाली करवाने के एवज में स्थानीय व्यवसायियों को प्रस्तावित संकुल आदि में जगह दी जाएंगी.

विषय क्रमांक १७३-यूरोपियन यूनियन व यूएन हैबिटाट के संयुक्त तत्वाधान से भारत,बांग्लादेश,लैटिन अमेरिका,साउथ ईस्ट एशिया,अफ्रीका आदि देशों का मौसम बदलने से होने वाली दुष्परिणाम टालने के लिए कुछ देशों का अभ्यास दौरा करने हेतु आवश्यक निधि के प्रावधान करने हेतु प्रस्ताव पर मुहर लगाई जाएगी.

विषय क्रमांक १७४ – वर्ष १९९३ में १६१ पदों के लिए भर्ती की गई थी. इसमें से १७ कर्मियों का पुनर्नियुक्ति का मामले पर आमसभा में निर्णय लिया जाएगा. इस मसले पर पूर्णविराम लगाएंगी. उक्त लाभार्थियों ने गत माह भाजपा के विदर्भ ओबीसी अध्यक्ष के नेतृत्व में मुख्यमंत्री बंगले के समक्ष आत्मदाह करने की कोशिश की. बाद में उक्त ओबीसी अध्यक्ष सुभास घाटे को पदमुक्त कर दिया गया.