| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Oct 13th, 2018
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    बौद्ध सर्किट पर भड़की सुलेखा कुंभारे कहाँ बीजेपी ने नहीं निभाया वादा

    नागपुर: केंद्रीय अल्पसंख्यक आयोग की सदस्य और बहुजन रिपब्लिकन एकता मंच की अध्यक्ष पूर्व मंत्री सुलेखा कुंभारे ने बीजेपी पर वादा नहीं निभाने का आरोप लगाया है। सुलेखा नागपुर में बनने वाले बुद्ध सर्किट को लेकर बीजेपी सरकार से ख़ासी नाराज़ नज़र आयी। उनके मुताबिक बीजेपी की राज्य सरकार ने नागपुर के बौध्द धर्म में प्रमुख तीर्थ स्थल दीक्षा भूमि,ड्रैगन पैलेस और चिंचोली स्थित शांति भवन स्थित को मिलकर बौद्ध सर्किट बनाने का ऐलान किया था। जो अब तक पूरा नहीं हो पाया है। इस योजना को लेकर न ही कोई काम हुआ और न ही किसी तरह की निधि सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई। देश में बौद्ध धर्मो को जोड़ते हुए देश भर में 38 सर्किट बनाने गए है। जिनके माध्यम से बौद्ध धर्म के अनुयायी प्रमुख तीर्थ स्थलों का लाभ लेते है। कुंभारे ने ही नागपुर में बौद्ध सर्किट बनाये जाने की माँग की थी। जिसे मानते हुए राज्य सरकार ने विशेष निधि उपलब्ध कराकर बौद्ध सर्किट के विस्तार का ऐलान किया था। सुलेखा शनिवार को पत्रकारों से बात कर रही थी जिसमे उन्होंने अपनी नाराजगी व्यक्त की।

    इस दौरान उन्होंने बताया कि हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी कामठी स्थित ड्रैगन पैलेस में 17 व 18 अक्टूबर को धम्म महोत्सव मनाया जाएगा। महोत्सव के तहत विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है। महोत्सव में केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितीन गडकरी , केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री के:जे अल्फांस, कंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास आठवले, राज्य के सामाजिक न्यायमंत्री राजकुमार बडोले, पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले सहित अन्य नागरिक उपस्थित रहेंगे। जापान,थाइलैंड, श्रीलंका, म्यांमार, बांग्लादेश, तिब्बत, वियतनाम, नीदरलैंड व अन्य बौद्ध राष्ट्रों के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहेंगे।

    तीन दिनों तक चलने वाले कार्यक्रम के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय बौद्ध धम्म शांति परिषद का भी आयोजन किया जा रहा है। अंतरास्ट्रीय महाबोधि मेडिटेशन सेंटर लेह-लद्दाख , जम्मू कश्मीर के संस्थापक अध्यक्ष भदंत संघसेना करेंगे। महाबोधी सोसायटी आफ इंडिया बुद्धगया के उपाध्यक्ष भदंत डा. वरसंबोधी हिस्सा लेंगे। साथ ही वैश्विक शांति,मैत्री व मानव कल्याण के लिए बौद्ध धम्म की आवश्यकता विषय पर परिसंवाद होगा। जिसमे जापान की भिख्खु म्यायान कातायामा, श्रीलंका के भदंत एम.मेधंकर, म्यांमार के भदंत डा.सयाडो शिरिघ , वियतनाम के भदंत थीच नाथ , नीदरलैंड के भदंत सोबिता, तिब्बत के भदंत पालडेन नामम्याल व थाइलैंड के भदंत प्रमहा अनेक उदोम धम्मकित्ती वक्ता रहेंगे।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145