Published On : Tue, Jul 23rd, 2019

गोंदिया में चरम पर है नशे का कारोबार

गांजे की खेप के साथ अंतरराज्यीय 2 तस्कर गिरफ्तार

गोंदिया। शहर में मादक पदार्थों की तस्करी का गौरखधंधा पैर पसार रहा है तथा पड़ोसी राज्यों से नशे की खेप बुलाकर उसे कॉलेज तथा आसपास के ढाबों तक पहुंचाने में कुछ कुख्यात लोग शामिल है, जो शहर की युवा पीढ़ी को नशे की लत से ग्रस्त कर उन्हें अंधेरी गल्लियों में धकेलने का काम करते है।

खबरी से पुख्ता जानकारी मिलने के बाद नवनियुक्त जिला पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे तथा उपविभागीय पुलिस अधिकारी रमेश बरकते के मार्गदर्शन में रामनगर थाना प्रभारी बबन अव्हाड़, सपोनि संदीप इंगले, पोउपनि राजेंद्र कुंभार,स.उपनि जावेद पठान, शुक्ला तथा रामनगर डीबी स्टॉफ की टीम ने शहर के मरारटोली स्थित मुख्य बस स्टॉप से लेकर रेस्ट हाऊस के शक्ति चौक तक मंगलवार 23 जुलाई सुबह 5.30 बजे से 6.30 बजे के बीच जाल बिछाया। इसी दौरान पुलिस टीम की नजर बस स्टॉप रोड से आ रहे 2 संदिग्धों पर पड़ी।

संदेह के आधार पर उन्हें पुलिस पेट्रोलिंग टीम ने रोका तथा उनके पास मौजुद सामान की जब तलाशी ली गई तो प्लास्टिक के 6 पैकेटों में भरा हरे रंग तथा उच्च क्वॉलिटी का सूखा गांजा बरामद हुआ जिसका वजन 2 किलो 100 ग्राम (कीमत 42 हजार रूपये) तथा 2 मोबाइल (कीमत 5 हजार) इस तरह 47 हजार का माल पुलिस ने हस्तगत करते हुए उड़ीसा प्रदेश के जिला बरगड़ के तहसील पाईमल के ग्राम मिठापल्ली निवासी भरत पात्रो (28) तथा अजीत भोई (20) इनपर अ.क्र. 238/19 के धारा 8,20 (ब), 2 एनडीपीएस (नार्कोटिक एक्ट) का जुर्म दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की गई तथा दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया जहां से अदालत ने उन्हें एक दिन तक पुलिस कस्टडी में भेजने का हुकुम सुनाया है।

लेन-देन में कोडवर्ड का इस्तेमाल

प्रारंभिक पूछताछ में यह खुलासा हुआ है कि, उक्त दोनों आरोपी ट्रेन से गोंदिया आए थे और बस स्टॉप रोड पर एक व्यक्ति आकर उनसे कोडवर्ड बताकर यह नशे की खेप प्राप्त करने वाला था? संभवत पुलिस की धरपकड़ देख वह व्यक्ति फरार हो गया होगा?

पुलिस की मानें तो पकड़े गए दोनों आरोपी कुरियर की तरह मिडीयेटर का काम करते है, लेकिन इस नशे के कारोबार से जुड़े असल मास्टर माइंड को पुलिस दबोचना चाहती है लिहाजा मामले की तफ्तीश हर पहेलू से जारी है।

उल्लेखनीय है कि, 3 माह पूर्व ही अंतरराज्यीय तस्करों से गोंदिया पुलिस ने सड़क अर्जुनी तहसील के ग्राम फुटाणा के निकट 2 ट्रकों में लदे 16 बोरों से 492 किलो गांजा बरामद करते हुए उड़िसा निवासी 2 सरगनाओं को हिरासत में लिया था। इन घटनाओं से सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि, मादक पदार्थों की तस्करी किस हद तक गोंदिया में हो रही है?

…रवि आर्य