Published On : Fri, Mar 27th, 2020

डाॅक्टर पर हुए हमले का सांसद डाॅ. विकास महात्मे ने किया निषेध

मालेगाँव मे डाॅक्टर पर जो हमला हुआ है उसका मै निषेध करता हूँ। अपनी जान जोखिम में डाल कर डाॅक्टर , नर्सेस और पॅरामेडिक्स कोरोना व्हायरस से होने वाले कोविड -19 के लिए जो काम कर रहे हैं वो ईश्वरीय काम से कम नही है। फिर भी एक बात हमे निश्चित ही समझना होगा कि डाॅक्टर भी आखिर इन्सान है, जाने अनजाने में उनसे गलती हो सकती है। अगर हमे कभी डाॅक्टर से नाराजगी भी हो तो संयम से काम लेना होगा। अपनी नाराजगी जताने के लिए हिंसा की जरूरत नहीं है। बातचीत से समस्या का हल निकल सकता है।

हम जानते हैं कि वैसे भी सरकारी अस्पतालों में काम करने के लिए डाॅक्टर मिलना मुश्किल है और ऐसे मार पीट की वजह से कोरोना महामारी के दौरान कौन सरकारी अस्पतालों में काम करेगा? डाॅक्टरही नही हो तो कैसी आपदा आयेगी क्या इसका आप अंदाज लगा सकते हैं?

इस विपत्ति में जो अत्यावश्यक सेवाएं दे रहे है उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करना चाहिए; न कि ” नेकी कर – डंडे खा ” ऐसा बर्ताव हो। मै पुनःश्च हाथ जोड़कर सबसे संयम की अपील करता हू और जो घिनौनी वारदात हुई है उसकी निंदा करता हू। हम जिन्हें जिम्मेदार जनप्रतिनिधि मानते हैं, जो खुद कानून बनाते है वही जनप्रतिनिधि गैरकानूनी हरकत अगर करते है तो यह शर्मनाक घटना है।