Published On : Thu, Sep 12th, 2019

दिव्यांग,मातंग,चर्मकार समाज के आवेदकों को उपलब्ध करवाएंगी मनपा की जगह

– मनपा विधि समिति सभापति अधिवक्ता धर्मपाल मेश्राम ने दी जानकारी

नागपुर : शहर के चौराहों पर मौके की जगह दिव्यांग,मातंग,चर्मकार समाज के बेरोजगारों को रोजगार/व्यवसाय करने हेतु मनपा प्रशासन नीति निर्धारण कर उपलब्ध करवाएंगी। उक्त जानकारी मनपा विधि समिति सभापति अधिवक्ता धर्मपाल मेश्राम ने दी।

अधिवक्ता मेश्राम के अनुसार भाजपा की नित रही हैं कि उपेक्षित समाज के उत्थानार्थ प्रशासन के मार्फ़त प्रयास किया जाए.इसी क्रम में १७ जून २०१९ को विधि समिति की बैठक हुई थी.जिसमें शहर के मातंग समाज,चर्मकार समाज व दिव्यांगों के सामाजिक उत्थान के लिए इन्हें स्वयं का रोजगार करने हेतु शहर के चौराहों पर मनपा की जगह आवंटित करने का निर्णय लिया गया था.

इसके बाद सभी ज़ोन में नोडल अधिकारी नियुक्त कर सभी जोन से उनके उनके क्षेत्रों से तीनों श्रेणियों का आवेदन मंगवाए गए.दिव्यांगों की ६९८,चर्मकार उर्फ़ गठई की १६७ और मातंग समाज की ३०२ आवेदन प्राप्त हुई हैं.

जिसमें से निति निर्धारण कर १०० दिव्यांगों को लॉटरी पद्द्त से उन्हें व्यवसाय करने के लिए जगह आवंटित करेंगी।इसके लिए मेश्राम ने मनपा स्थावर विभाग और समाज कल्याण विभाग को अगले कार्यालयीन १५ दिनों में जगहों की सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाने की सूची तैयार करने का निर्देश दिया हैं.दीपावली के बाद सम्पूर्ण तैयारी बाद जगह आवंटन की रुपरेखा तैयार की जाएंगी।

मेश्राम ने बताया कि इससे पहले मनपा स्थावर विभाग और समाज कल्याण विभाग जगह वितरण सम्बन्धी निति तैयार कर सभी मंजूरी प्राप्त करेंगी।
उल्लेखनीय यह हैं कि मनपा अपने बजट में गठई समुदाय के लिए प्रत्येक वर्ष २५ लाख रूपए का प्रावधान करती हैं,लेकिन तकनिकी अड़चनों के कारण खर्च नहीं हो पाता।दिव्यांगों के लिए इस आर्थिक बजट में २० करोड़ का प्रावधान किया गया हैं.

इस अवसर पर स्थावर अधिकारी विजय हुमने और समाज कल्याण अधिकारी रंजना लाडे उपस्थित थे.