Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, May 21st, 2018

    राजकोट: दलित को जानवरों की तरह पीट कर मार डाला!

    राजकोट: गुजरात के राजकोट में दलित व्यक्ति को पीट कर मार डालने का बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक रविवार की सुबह राजकोट जिले के शापर गांव में एक फैक्ट्री में कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने कचड़ा उठाने वाले दलित व्यक्ति को इतना पीटा कि उसकी मौत हो गई। लोगों और दलित व्यक्ति के बीच कचड़ा उठाने को लेकर ही विवाद शुरू हुआ था, जो आखिर में इतना बढ़ गया कि लोगों ने दलित व्यक्ति को ही पीट डाला। पुलिस ने आईपीसी की धारा और एससी-एसटी एक्ट के तहत पांच अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। इस मामले की शिकायत मृतक की पत्नी ने कराई है।

    मृतक की पहचान मुकेश वानिया के तौर पर की गई है। वह मूल रूप से सुरेंद्रनगर जिले के परनाला गांव का निवासी था। अधिकारियों के मुताबिक यह घटना सुबह 6 से 9.30 बजे के बीच की है। पुलिस ने जानकारी दी कि मुकेश अपनी पत्नी जया और एक अन्य महिला सविता के साथ रडाडिया फैक्ट्री के पास कचड़ा बिन रहा था। उस वक्त फैक्ट्री से निकलकर पांच लोग आए और तीनों कचड़ा बिनने वालों से किसी मुद्दे को लेकर बहस करने लगे। बहस बढ़ते हुए हाथापाई पर पहुंच गई। पांचों ने मिलकर तीनों की जमकर पिटाई की। बाद में दोनों महिलाओं को बाहर निकाल दिया गया और मुकेश को पकड़कर उसे इस कदर पीटा गया कि उसकी मौत हो गई।

    सब इंस्पेक्टर आरजी सिंधू का कहना है, ‘लड़ाई की असली वजह क्या थी इस पर अभी कुछ भी स्पष्ट तौर पर नहीं कहा जा सकता, लेकिन शिकायत के मुताबिक कचड़ा उठाने से संबंधित ही मामला था। मुकेश की पत्नी और अन्य महिला उस वक्त घर चली गई थीं, जब मुकेश को अज्ञात लोगों ने पकड़ लिया था। कुछ समय बाद दोनों महिलाएं कुछ अन्य पुरुषों को लेकर फैक्ट्री पर पहुंचीं, जहां उन्हें मुकेश जमीन पर पड़ा मिला। वे लोग मुकेश को सिविल अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हमने कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और हम पोस्टमार्टम की रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। शव को देखकर कहा जा सकता है कि मुकेश को मोटी लकड़ी से पीटा गया होगा।’ इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। दलित नेता और गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवानी ने ट्विटर पर इस वीडियो को शेयर किया है और लिखा है, ‘मिस्टर मुकेश वानिया अनुसूचित जाति से आते थे, उन्हें और उनकी पत्नी को फैक्ट्री के मालिकों द्वारा बुरी तरह से पीटा गया, जिसकी वजह से मुकेश की मौत हो गई।’


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145