Published On : Wed, Jan 17th, 2018

स्वच्छ भारत अभियान में शामिल कर्मियों को प्रोत्साहित किया ‘डाबर’ ने


नागपुर: केंद्र सरकार की पहल पर स्वच्छ भारत अभियान सम्पूर्ण देश में चलाया जा रहा है. इसके लिए सभी शहरों को अभियान में भाग लेते हुए डेढ़ दर्जन मानकों को पूरा करना अनिवार्य है. इस क्रम में नागपुर महानगरपालिका आयुक्त के मार्गदर्शन में मनपा स्वास्थ्य विभाग प्रमुख के निर्देश पर सम्पूर्ण विभाग के साथ सहयोगी सक्रिय है.

अपने शहर की स्वच्छता को चार चांद लगाने वाले स्वच्छता दूतों को प्रोत्साहित करने के लिए ग्रामीण विकास संस्था ने ‘डाबर’ कंपनी के सहयोग से उन्हें डाबर के उत्पाद देकर उनकी सराहना की. संस्था के सर्वेसर्वा संदीप अग्रवाल ने मनपा के प्रभाग क्रमांक ११ में स्वच्छता अभियान में शामिल कर्मियों को ‘ डाबर’ के उत्पाद प्रदान किए.

Advertisement

Advertisement

संदीप अग्रवाल ने जानकारी दी कि मनपा द्वारा स्वच्छ भारत में बढ़-चढ़ के भाग ले रही हैं.लेकिन मनपा के जिम्मेदार अधिकारियों में से सिर्फ स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रदीप दासरवार ही जगह जगह मुआयना करते नज़र आये.शेष दिग्गज अधिकारी कागजी घोड़े दौड़ा-दौड़ा कर आयुक्त और अभियान के लिए आने वाली जाँच दल को खुश करने में लीन हैं.आयुक्त स्तर के अधिकारी रोजाना स्वास्थ्य विभाग के जोनल अधिकारियों को मुख्यालय बुलाकर दिनभर उनका समय ख़राब कर रहे हैं.अब तो स्वास्थ्य विभाग के कर्मी काफी नाराज हो गए हैं.

Advertisement

उक्त आरोप से मनपा प्रशासन के पहल का यह नुकसान हो रहा कि सफाई अभियान में नदी-नाले में उतरने वाले कर्मियों के पास उचित स्वास्थ्य व सुरक्षा की किट न होने से वे भयभीत हैं.कोराडी मार्ग पर कार्यरत नाले में कई बड़े बड़े सांप दिखे ,लेकिन ऐसे नाले में मशीन के बजाय मनुष्य बल से सफाई करवाना उन कर्मियों के जान से खिलवाड़ कर रही हैं.जबकि बड़े और गहरे नाले में मशीन से सफाई समय की मांग हैं.
अग्रवाल ने मनपायुक्त से मांग की हैं कि इस दफे स्वच्छता अभियान में पुरस्कृत होने पर सफाई कर्मियों में से एक महिला और एक पुरुष कर्मी को पुरस्कार ग्रहण करने के लिए साथ ले जाया जाये ताकि उनका मनोबल ऊँचा किया जा सके.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement