| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Sep 18th, 2014
    Vidarbha Today | By Nagpur Today Vidarbha Today

    पारशिवनी : परदे के कपड़े खरीदने में भी घोटाला


    शिवसेना नेता करुणाताई आष्टनकर का आरोप, जांच की मांग

    Panchayat samiti Parshivni
    पारशिवनी (नागपुर)। 
    पारशिवनी पं.स. के नए प्रशासकीय भवन के दरवाजे और खिड़कियों के लिए खरीदे गए परदों के कपड़ों में हजारों रुपयों की हेराफेरी का आरोप पारशिवनी पं.स. की पूर्व सभापति शिवसेना की करुणाताई आष्टनकर ने लगाया है.

    अपनी पसंद की दुकान को मंजूरी
    उन्होंने कहा है कि नए प्रशासकीय कार्यालय के दरवाजे और खिड़की के लिए परदे खरीदी करने के लिए खंड विकास अधिकारी बी.डब्ल्यू. यावले ने 21 मई 2014 को परिसर के कपड़ा दुकानों में से अपनी पसंद की दुकानों के कोटेशन मंगवाए गए थे. इसके अनुसार वैशाली साड़ी सेंटर, विष्णु वस्त्र भंडार, गजानन क्लॉथ स्टोर पारशिवनी के कोटेशन आए थे. इसमें सबसे कम कोटेशन विष्णु वस्त्र भंडार का था. इसलिए उसी दुकान के कोटेशन को 30 मई को मंजूरी दी गई थी.

    40 हजार से अधिक का बिल
    8 जून को 14,260 रुपए स्थानीय पं.स. के कर्मचारी जे.डब्ल्यू. फरकाडे द्वारा हषार्ली किराना एंड जनरल स्टोर पारशिवनी और 9 जून को 26,050 रुपए विष्णु वस्त्र भंडार पारशिवनी मिलाकर 40,310 रुपए का बिल निकाला गया. आष्टनकर का आरोप है कि इस बिल में हजारों रुपयों की हेराफेरी मुख्य अकाउंट और खंड विकास अधिकारी यावले द्वारा की गई है.

    बिल की जांच की मांग
    मजे की बात यह है कि पं.स. कार्यालय से इस दुकान की दूरी आधा किलोमीटर से भी कम है, मगर उसका कार्टिंग बिल 700 रुपए लगाया गया है. पूर्व सभापति ने 40,310 रु. के बिल की ग्राम विकास मंत्रालय मुंबई, जि. प. अध्यक्ष नागपुर, जि.प. उपाध्यक्ष नागपुर और जि.प नागपुर के सीईओ से जांच करने की मांग की है.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145