Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Mar 26th, 2018
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    Video: निर्दयता और क्रूरता की हदें पार कर श्वानों को रॉड से पीटकर मारनेवाले आरोपियों को मिली जमानत


    नागपुर: रविवार को सुबह शांतिनगर परिसर में दो लोगों ने चार श्वानों को जाली में बंद कर बड़ी ही निर्दयता और क्रूरता के साथ रॉड से पीटपीटकर मार डाला था. इनमें से तीन श्वानों की मौत हो गई थी. जिसमें से एक श्वान की हालत काफी गंभीर है.एनजीओ की शिकायत पर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया लेकिन सोमवार को दोनों आरोपियों को कोर्ट से जमानत मिल गई श्वानों को मारनेवाले आरोपियों के नाम रतन चमके और नितिन सातपुते है. जानकारी के अनुसार यह दोनों आरोपी सुअर पालने का काम करते हैं. इन लोगों के सुअर शांति नगर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत मारवाड़ी वाड़ी और नागोबा मंदिर और परिसर में घूमते रहते हैं. जिसके कारण जब भी यह दोनों सुअर को पकड़ने आते थे तो यह चारों श्वान दोनों पर भोकते थे. रविवार सुबह साढ़े 5 बजे के करीब इन दोनों आरोपियों ने इन श्वानों पर सुअर पकड़ने की जाली डालकर इन्हें लोहे की रॉड से मारा . जिसके कारण इन चारों श्वानो की तड़प तड़पकर मौत हो गई. लेकिन जिस समय यह लोग इन श्वानों को मार रहे थे. तो आसपास रहनेवाले लोगों में से किसी ने भी इन आरोपियों को रोकने कोशिश नहीं की.

    इस पूरे मामले की जानकारी मिलने के बाद सुबह 10 बजे के करीब सेव स्पीचलेस आर्गेनाईजेशन की संस्थापक स्मिता मिरे ने शांति नगर पुलिस स्टेशन में जाकर शिकायत की. जिसके बाद अन्य एनजीओ ने भी आगे आकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. हालांकि कमजोर नियमों के कारण आरोपियों को सोमवार को जमानत मिल गई. हालांकि पुलिस की चार्जशीट के बाद आरोपियों की सजा बढ़ सकती है. जानकारी के अनुसार दोनों आरोपी इससे पहले भी इसी क्रूरता से सैकड़ो श्वानों को मार चुके हैं. लेकिन परिसर के किसी भी नागरिक ने इनके खिलाफ आवाज नहीं उठायी. पुलिस को श्वानों को मारते हुए सीसीटीवी फुटेज मिला है. जिसमे दोनों आरोपियों ने बेरहमी के साथ श्वानों को रॉड से मारकर उनकी जान लेने का पूरा वाकया सीसीटीवी फुटेज में मौजूद है. जब यह सब हो रहा था तो आसपास खड़े लोग केवल देख रहे थे. मगर किसी ने भी श्वानो को बचाने की कोशिश नहीं की. अगर किसी ने थोड़ी हिम्मत दिखाई होती. तो इन श्वानों को बचाया जा सकता था.

    इस बारे में शांतिनगर पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक किशोर नगराले ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है. काफी क्रूरतापूर्ण तरीके से श्वानों को मारा गया है. हालांकि दोनों आरोपियों को जमानत मिल गई है.

    नागपुर महानगर पालिका के पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. गजेंद्र महल्ले ने बताया कि एक श्वान की हालत काफी गंभीर है. उसका इलाज एनिमल शेल्टर में चल रहा है. महल्ले ने बताया कि आरोपियों को कड़ी सजा मिले इसको लेकर मनपा की ओर से भी दोनों आरोपियों के खिलाफ शांतिनगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज की जाएगी. जिससे की केस स्ट्रॉन्ग हो. उन्होंने भी श्वानों की इस तरह से हत्या को लेकर नाराजगी जताई है.

    इस पूरे में मामले में पशु-प्रेमी और सेव स्पीचलेस आर्गेनाईजेशन की संस्थापक स्मिता मिरे ने श्वानों की हत्या को लेकर काफी नाराजगी व्यक्त की है. उनका कहना है कि इसे पहले भी शहर में इस तरह से श्वानों की हत्या की गई है. बेजुबान श्वानों की इस तरह से हत्या एक तरह से अमानवीय है. स्मिता श्वानों के साथ किए गए इस क्रूरता के खिलाफ शांतिनगर पुलिस स्टेशन में जाकर डटी रही और आरोपी गुंडे किस्म के होने के बावजूद भी वह डरी नहीं. स्मिता ने आरोपियों को जमानत मिलने पर भी नाराजगी जताई है. उन्होंने मांग की है कि आरोपियों को सख्त सजा मिले.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145