Published On : Fri, Jun 30th, 2017

धमकाने और जमींन हथियाने के मामले में नगरसेवक हरीश ग्वालबंशी फिर हुआ गिरफ्तार

Man Arrested

Representational Pic


नागपुर : 
नगरसेवक हरीश ग्वालबंशी को एक बार फिर धमकाने और जमीन हथियाने के मामले में गुरुवार को फिर गिरफ्तार किया गया है. शिकायतकर्ता संजयसिंह सिद्धूसिंह बैस की शिकायत पर एसआईटी के माध्यम से मामला गिट्टीखदान पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है. संजयसिंह बैस ने 1999 में नर्मदा को-ऑप हाउसिंग सोसाइटी के हजारी पहाड़ में 1200 स्क्वायर फीट का प्लाट ख़रीदा था. संजय ने वर्ष 2001 में प्लॉट के चारों तरफ सीमेंट के खंभे गाड़े थे जिसे हरीश ग्वालबंशी और उसके साथियो ने उखाड़ दिए.वर्ष 2002 में हरीश ने पूरी सोसाइटी पर सीमेंट का कम्पाऊण्ड वॉल बनाकर उस पर जबरन कब्ज़ा कर लिया।

20 जून 2017 को जब संजयसिंह अपने बेटे के साथ जब अपने प्लॉट को देखने गए तो उन्हें उनके द्वारा लगाए गए प्लॉट के चारों तरफ लगाए गए सीमेंट के खंभे नदारद दिखाई दिए. इसी दिन उनकी हरीश ग्वालबंशी उसके भाई शैलेश ग्वालबंशी ने अपने साथियो के साथ संजय के साथ गालीगलौज और मारपीट की थी। विवाद के दौरान हरीश ने संजय को यह जमींन आदिवासी लोगों से ख़रीदे जाने की बात कही उसन जमींन वापस देने के एवज में सात लाख रूपए की माँग भी की। डरा धमकाकर हरीश और उसके साथियो ने संजय को उनके ही प्लाट से भागा दिया और वापस आने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी।

भू माफिया ग्वालवंशी परिवार का काला चिट्ठा सामने आने के बाद संजय को अपना प्लॉट वापस मिलने की उम्मीद जगी उन्होंने नागपुर पुलिस द्वारा गठित एसआईटी के सामने अपनी आपबीती सुनाई। एसआईटी के माध्यम सेपास मामला आने के बाद गिट्टीखदान पुलिस स्टेशन में हरीश ग्वालबंशी और उसके साथियो के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। इसी मामले में .पुलिस ने गुरुवार को हरीश को गिरफ्तार किया है.वह इससे पहले अन्य मामले में जेल में था जहाँ से उसे जमानत पर रिहा किया गया था। हरीश का भाई और अन्य आरोपी अब भी फ़रार है।