Published On : Fri, Apr 13th, 2018

ठेकेदार ने कचराघर में अतिक्रमण कर लगाया टैक्स

Garbage House
नागपुर: छावनी स्थित पुलिस चौकी के पीछे वर्षों पूर्व सार्वजानिक शौचालय बनाया गया था. जिसको ढहाने के बाद उसकी आधी जगह पर एक प्रभावी स्थानीय नागरिक ने कब्ज़ा कर पक्का निर्माणकार्य कर लिया. अतिक्रमणकारी मनपा में ठेकेदारी भी करता है वह सत्तापक्ष के एक विधायक और एक नामजद नगरसेवक का खुद को करीबी दर्शाता है. पिछले वर्ष कब्ज़ा कर पक्का निर्माण कर ‘बैक डेट’ का कागजात भी बना लिया.

नागपुर महानगरपालिका का मंगलवारी ज़ोन कार्यालय छावनी-न्यू कॉलोनी और नई बस्ती आदि इलाके से सटा है. जोन कार्यालय से न्यू कॉलोनी की ओर जाने वाले मार्ग पर याने जोन कार्यालय के निकट सड़क के उस पार अंग्रेजों के ज़माने का सार्वजानिक शौचालय था. जिसका इस्तेमाल स्थानीय नागरिक आदि किया करते थे. कुछ वर्ष पूर्व उसके जीर्ण हो जाने के कारण उसे ढहा दिया गया और उसकी जगह समतल कर आसपास के इलाकों से कचरा संकलन कर इस जगह को ‘मिनी डंपिंग यार्ड’ का रूप दे दिया गया था.

अतिक्रमणकारियों के करीबी के अनुसार उक्त कचराघर के २५०० वर्ग फुट जगह पर कब्ज़ा है. राजनीतिक पहुंच के कारण मनपा प्रशासन व मंगलवारी ज़ोन प्रशासन ने चुप्पी साध रखी है. इसी मिनी डम्पिंग यार्ड के आधे हिस्से पर पिछले साल उक्त अतिक्रमणकारी गुप्ता ने कब्ज़ा कर पक्का निर्माणकार्य कर लिया. इस जगह पर ठोस कब्ज़े के लिए ६-७ वर्ष पुराने कागजात तैयार कराने के साथ ही साथ संपत्ति कर भी लगा लिया.

मंगलवारी ज़ोन के स्वास्थ्य विभाग से इस सम्बन्ध में पूछने पर उन्होंने मामले की जानकारी न होने की बात कही और आज उनका कहना हैं कि उन्होंने कनक से बात की तो कनक का जवाब यह मिला की जगह विवादित हैं.

Garbage House
अतिक्रमणकारी के करीबियों के अनुसार उक्त अतिक्रमण को को हटा नहीं सकता क्यूंकि इस अतिक्रमण उन्मूलन के लिए मनपा प्रशासन को सत्तापक्ष के उक्त विधायक और नामजद नगरसेवक से उलझना पड़ सकता हैं.

उल्लेखनीय यह है कि मनपा के स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर प्रदीप दासरवार ने मंगलवारी जोन के स्वास्थ्य अधिकारी को उक्त सम्पत्ति की जांच के आदेश दिए है. समाचार लिखे जाने तक जांच की रिपोर्ट पेश नहीं की गई.