Published On : Tue, Mar 10th, 2015

अकोला : विकलांगो को 23 मार्च को दी जायेगी सामग्री

Advertisement


अकोला।
अकोला के वैदकीय महाविद्यालय में 23 मार्च को एक दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया है. इस शिविर में विकलांगो को सामग्री वितरित की जायेगी. व्यवस्थापक व यूनिट प्रमुख, सहायक उत्पादक केंद्र, जबलपूर भारतीय कृत्रित अंग निर्माण निगम एडीआयपी योजना अंतर्गत नि:शुल्क प्रमोपचार, विकलांगता पीडब्ल्यूडीएस की ओर से 18 वर्ष आयु के तथा आर्थिक रूप से सहायता व सामग्री न मिलने वाले मरीजों को सामग्री का वितरण किया जायेगा. लेकिन 14 वर्ष के भीतर के बालकों के लिए 1 वर्ष की मर्यादा रखी गई है. इस शिवर में अकोला जिले के नोडल अधिकारी के रूप में जिला शल्य चिकित्सक डा. आर.एच. गिरी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी जि.प. डा. एन.एन. आंबेडकर की नियुक्ति की गई है.

इस योजना के तहत लाभ लेने वाले विकलांग को समक्ष अधिकारी का प्रमाणपत्र होना आवश्यक है, वह भारत का नागरिक हो, 40 प्रतिशत विकलांग हो, उसकी मासिक आय 40 हजार रूप होने का प्रमाणपत्र, राशनकार्ड, मतदान कार्ड अथवा आधारकार्ड, विकलांग के स्थान के दो छायाचित्र की आवश्यकता होगी. जिन विकलांगों के पास प्रमाणपत्र नहीं है ऐसे विकलांगो को प्रमाणपत्र देने के लिए जिला शल्य चिकित्सक ने शिविर के तीन दिनों पूर्व प्रमाणपत्र उपलब्ध करवाने के लिए सक्षम अधिकारी की नियुक्ति करें. जिले के सभी शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों ने शिविर का लाभ ले इसके लिए नोडल अधिकारी, उपविभागीय अधिकारी राजस्व ने उनके कार्यक्षेत्र के अस्पताल, एनजीओ के माध्यम से विकलांगो को शिविर का लाभ मिले इसके लिए प्रयास करने का आवाहन जिलाधीश अरूण शिंदे ने किया है.
apang

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement