Published On : Sat, Feb 23rd, 2019

सेहत के प्रति सचेत करता स्वस्थ भारत अभियान, सेवाग्राम में स्वस्थ भारत यात्रा-2 का हुआ पहला चरण पूरा

Advertisement

प्रथम चरण में 5 हजार किमी से ज्यादा की हुई यात्रा,दक्षिण भारत सहित 9 राज्यों में हुए 51 आयोजन

नागपुर: स्वस्थ भारत यात्रा का पहला चरण पूरा हुआ. 20 दिनों के इस चरण में लाखों लोगों तक स्वस्थ भारत का संदेश पहुंचा. सभी वर्ग के लोग इसमें शामिल हुए. शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के जनऔषधि केन्द्रों का जायजा लिया गया. कहीं पदयात्रा तो कहीं बाइक रैली निकालकर जनऔषधि, पोषण एवं आयुष्मान के महत्व को जानने की अपील की गई. इस दौरान 51 जन-सभाओं के माध्यम से देश के आम लोगों तक स्वस्थ भारत का संदेश पहुंचाने में कामयाबी मिली. जगह-जगह स्वस्थ भारत यात्रियों का स्वागत सम्मान स्थानीय परंपरा के अनुरूप हुआ. यात्री दल के सदस्यों ने अहमदाबाद, वड़ोदरा, सूरत, दमन, मुंबई, पालघर, पुणे, कनेरी मठ (कोल्हापुर), घटप्रभा (बेलगाम), कराड (सतारा), बंगलुरु, मैसूर, कोयंबटूर, त्रिपुर, कोच्चि (केरल), त्रिची, पुदुचेरी, चेन्नई, तिरुपति, श्रीकालहस्ती, विजयवाड़ा, चिटियाला (तेलंगाना), हैदराबाद, अदिलाबाद और वर्धा आदि जगहों पर विभिन्न आयोजनों के जरिए आम जनता तक स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों पर चर्चा की और लोगों को सचेत रहने के लिए जागरुक किया.

Advertisement
Advertisement

इस यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के अंतर्गत चल रहे जनऔषधि केन्द्रों सहित तमाम गैर-सरकारी संगठनों एवं शैक्षणिक संस्थानों का सहयोग एवं समर्थन मिला. प्रमुख संस्थानों में गुजरात विद्यापीठ, फेंड्स सोसायटी, कनेरी मठ, कर्नाटक हेल्थ इंस्टीट्यूट, राजेन्द्र प्रसाद मेमोरियल ट्रस्ट (बंगलुरु), पुदुचेरी राजभवन, पांडेचेरी विश्वविद्यालय, चेन्नई गुरुद्वारा (टी नगर), महात्मा गांधी मंदिर, गांधी दर्शन (हैदराबाद), स्टार महिला मंडली और कादरी इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन (हैदराबाद), कस्तूरबा गांधी हेल्थ सोसायटी, सेवाग्राम एवं महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय (वर्धा) आदि संस्थानों का भरपूर सहयोग एवं समर्थन मिला.

यात्रा के दौरान जिन प्रमुख हस्तियों ने अपने समर्थन से यात्रियों का हौसला बढ़ाया और उनके उद्देश्यों की सराहना करते हुए आम जनता से जेनरिक दवाइयों को अपनाने की अपील की उनमें गुजरात के शिक्षा मंत्री, पुदुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी, कनेरी मठ के काडसिद्धेश्वर स्वामी, प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना के सीईओ सचिन कुमार सिंह, पांडिचेरी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. गुरमित सिंह, तमिलानाडू के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित, वरिष्ठ गांधीवादी समाजकर्मी श्री प्रसाद, सेवा ग्राम आश्रम के सचिव टीआर प्रभू, कस्तूरबा हेल्थ सोसायटी के सचिव डॉ.बीएस गर्ग, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय के कृपाशंकर चौबे, अशोक मिश्र, अरूण त्रिपाठी, गीतकार शेखर अस्तित्व, संगीतकार सरोज सुमन, अभिनेता अजय यादव, वरिष्ठ लेखिका अचला नागर, पुदुचेरी के प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी.सामिनाथन, तमिलनाडू प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ए.एन.एस प्रसाद, प्रदेश भाजपा सचिव एम.सुरेश और पुदुचेरी प्रदेश भाजपा की सचिव जयंती राजगोपाल आदि के नाम शामिल हैं.

स्वस्थ भारत यात्रा के प्रथम चरण के अंतिम दिन सेवाग्राम, वर्धा पहुंचने पर कस्तूरबा हेल्थ सोसायटी की ओर से विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए. एमबीबीएस विद्यार्थियों सहित नर्सिंग की छात्राओं की सभाएं हुईं जिसे यात्रा प्रमुख आशुतोष कुमार सिंह एवं वरिष्ठ गांधीवादी चिंतक प्रसून लतांत ने संबोधित किया.

स्वास्थ्य के क्षेत्र में 7 वर्षों से सक्रिय है स्वस्थ भारत
विगत 7 वर्षों से स्वास्थ्य एडवोकेसी के क्षेत्र में काम कर रहे स्वस्थ भारत (न्यास) ने महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती वर्ष में उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करने की अनूठी पहल की है. संस्था ने गांधी को याद करते हुए स्वस्थ भारत अभियान के अंतर्गत स्वस्थ भारत के तीन आयामः जनऔषधि पोषण और आयुष्मान विषय पर देश की आम जनता को जागरुक करने का मैराथन संकल्प लिया है.

‘कंट्रोल मेडिसिन मैक्सिमम् रिटेल प्राइस’, ‘जेनरिक लाइए पैसा बचाइए’, ‘नो योर मेडिसिन’, तुलसी लगाइए रोग भगाइए’, ‘नो योर डॉक्टर नो योर फार्मासिस्ट’ एवं ‘स्वस्थ बालिका स्वस्थ समाज’ सहित दर्जनों जागरुकता अभियानों के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य के प्रति सचेत एवं जागरुक करने का न्यास ने प्रयास किया है.

संस्था ने ‘स्वस्थ बालिका स्वस्थ समाज’ विषय को लेकर 2017 में देशव्यापी स्वस्थ भारत यात्रा की. इस दौरान लाखों बालिकाओं से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष संवाद स्थापित कर बालिका स्वास्थ्य के मसले को एक दिशा एवं गति देने का काम किया है. इसी कड़ी में एक बार फिर से संस्था स्वस्थ भारत यात्रा-2 लेकर निकली है. इस यात्रा का ध्येय वाक्य है- ‘स्वस्थ भारत के तीन आयाम जनऔषधि, पोषण और आयुष्मान’.

यात्रा के सहयोगी
स्वस्थ भारत यात्रा के राष्ट्रीय संयोजक अनिल सौमित्र ने बताया कि इस यात्रा में तमाम सरकारी व गैर-सरकारी संस्थाओं का सहयोग एवं समर्थन मिल रहा है। ‘प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना’, ब्रेन बिहैवियर रिसर्च फाउंडेशन ऑफ इंडिया, मेवाड़ विश्वविद्यालय, कस्तूरबा हेल्थ सोसाइटी, स्पंदन, हीलिंग सबलाइम फाउंडेशन, सोशल रिफॉर्म्स एवं रिसर्च ऑर्गनाइजेशन, सर्च फाउंडेशन, हिन्दुस्थान समाचार समूह सहित तमाम जनसरोकारी गैर-सरकारी संस्थाओं, साइनोकेम फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड, क्योरटेक स्कीनकेयर, मस्कट हेल्थ सीरीज प्रा. लिमिटेड, और सनकेयर फार्मास्यूटिकल्स प्रा.लिमिटेड जैसी गुणवत्तायुक्त जेनरिक दवा बनाने वाली फार्मा कंपनियों के साथ-साथ देश के कई शिक्षण संस्थानों का सहयोग एवं समर्थन प्राप्त हो रहा है.

इस यात्रा में वरिष्ठ पत्रकार एवं इंदिरा गांधी कला केन्द्र के अध्यक्ष रामबहादुर राय, कनेरी मठ के काडसिद्धेश्वर स्वामी, कर्नाटक हेल्थ इंस्टिट्यूट के प्रमुख और प्रख्यात चिकित्सक डाँ. घनश्याम वैद्य, वरिष्ठ शिक्षाविद एवं पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर की पदयात्रा के संयोजक रहे एचएन शर्मा, मेवाड़ विश्वविद्यालय के चेयरमैन अशोक गदिया, देश-दुनिया के जाने-माने हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुराग अग्रवाल, वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉ. मनीष कुमार, वरिष्ठ ब्रेन एनालिस्ट डॉ. आलोक मिश्रा, वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह, उमेश चतुर्वेदी, ओमप्रकाश अश्क, ओमप्रकाश तिवारी सहित सैकड़ों पत्रकार मित्रों का सहयोग प्राप्त हो रहा है. इसके साथ ही लाइफ एवं वेलनेस कोच डॉ. अभिलाषा द्विवेदी, वरिष्ठ स्तंभकार शशांक द्विवेदी एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. ममता ठाकुर का विशेष मार्गदर्शन एवं सहयोग प्राप्त हो रहा है. स्वस्थ भारत के संरक्षक मंडल एवं मार्गदर्शक मंडल के वैचारिक सहयोग ने इस यात्रा को परिकल्पित करने में विशेष मदद की है.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement