Published On : Sat, Oct 23rd, 2021

महाराष्ट्र में कोचिंग क्लासेस फिर से जल्द शुरु होंगी- दिलीप वलसे पाटिल

कैमिट अध्यक्ष दीपेन अग्रवाल को आश्वासन

नागपुर– सरकार जगाओ, वाणिज्य बचाओ संघर्ष समिति (एसजेवीबीएसएस) के संयोजक और चेंबर ऑफ एसोसिएशन ऑफ महाराष्ट्र इंडस्ट्री एंड ट्रेड (कैमिट) के अध्यक्ष दीपेन अग्रवाल ने नागपुर की अपनी पहली यात्रा के दौरान महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल से मुलाकात की।

दीपेन अग्रवाल ने पुष्प गुच्छ से मंत्री का स्वागत किया और विशेष रूप से त्यौहारों के मौसम में व्यापारियों की सुरक्षा से संबंधित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की और महत्वपूर्ण रूप से ऑनलाइन साइबर धोखाधड़ी और अपराध में वृद्धि के बारे में चिंताओं की ओर उनका ध्यान आकर्षित किया।


दीपेन अग्रवाल ने सभी सेगमेंट्स और सेक्टर्स की आर्थिक गतिविधियों को फिर से शुरू करने के निर्णय का स्वागत करते हुए, गृह मंत्री का ध्यान कोचिंग कक्षाओं के साथ, सरकार की अनदेखी के कारण हो रहे अन्याय की ओर आकर्षित किया। स्कूलों और कॉलेजों को एसओपी के साथ संचालन फिर से शुरू करने की अनुमति है, जबकि कोचिंग कक्षाओं को संचालित करने की अनुमति नहीं है।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी को लेकर अन्य राज्यों के छात्रों की तुलना में राज्य के छात्रों के लिए कोचिंग कक्षाओं का बंद होना बहुत बड़ा झटका है। अग्रवाल ने गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल से अनुरोध किया कि कोचिंग कक्षाओं को तत्काल प्रभाव से संचालित करने की अनुमति सुनिश्चित करें।

दिलीप वलसे पाटिल ने सभी मुद्दों को धैर्यपूर्वक सुनने के बाद, उनके सामने रखे गए सभी मुद्दों को हल करने मदद का आश्वासन दिया और कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से मुख्य सचिव से और यदि आवश्यक हो तो मुख्यमंत्री से बात करेंगे। वह यह सुनिश्चित करेंगे कि अनजाने में कोचिंग कक्षाओं के साथ हुए अन्याय को सुधारा जाए और राज्य में कोचिंग कक्षाओं को खोलने की अनुमति देने के लिए जल्द से जल्द आदेश जारी किया जाए।

दीपेन अग्रवाल ने नागपुर के राकांपा अध्यक्ष दुनेश्वर पेठे के प्रति आभार व्यक्त किया कि उन्होंने बैठक में उपस्थित होकर उचित मांगों का समर्थन किया। पूर्व एम‌एल‌सी प्रकाश गजभिये, राधेश्याम सारडा, हेमंत गांधी, अरूप एस मुखर्जी, प्रवीण महाजन और हर्ष अग्रवाल प्रमुख रूप से उपस्थित थे।