Published On : Wed, Oct 18th, 2017

खिचड़ी खाने से इनकार किया, महिला टीचर ने बेरहमी से स्टूडेंट को पीटा

Representational Pic

नागपुर.शहर के बेझनबाग स्थित गुरुनानक प्रायमरी एंड हाईस्कूल में एक शिक्षिका ने चौथी कक्षा के छात्र की बेदम पिटाई कर दी। मिड-डे मिल न खाने की सजा के रूप में यह पिटाई की गई। घटना से छात्र और पालक सदमे में हैं। पीड़ित छात्र कौस्तुभ टेंभुर्णे के पालक ने क्लास टीचर जैनिफर काले पर उनके बच्चे की बेदम पिटाई का आरोप लगाया है। स्कूल के पालक संगठन “पालक संघर्ष समिति’ ने स्कूल प्रशासन से शिक्षिका पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बीते दिनों नोयडा के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युमन प्रकरण के बाद से पालक स्कूल में बच्चों की सुरक्षा के प्रति चिंतित हैं। ऐसे में नागपुर की स्कूल में इस तरह के वाक्ये से विद्यार्थियों की सुरक्षा एक बार फिर सवालों के घेरे मे है।

ये है मामला

पीड़ित छात्र कौस्तुभ टेंभुर्णे चौथी कक्षा में है। पिता बादल टेंभुरने सब्जी विक्रेता हैं और मां सीमा निजी अस्पताल मे  नर्स है। स्कूल का समय सुबह 7.30 से 11.30 बजे तक है। लंच ब्रेक में विद्यार्थियों को ‘मिड-डे मील दिया जाता है। स्कूल का खाना अच्छा नहीं लगता, यह बात कौस्तुभ ने माता-पिता को बताई थी। लिहाजा, स्वास्थ्य कारणों से भी माता-पिता ने स्कूल का खाना खाने से मना कर रखा था। स्कूल में जब कौस्तुभ और उसके कुछ दोस्तों ने खाना खाने से इनकार किया तो क्लास टीचर जैनिफर काले पिटाई करने लगीं। बेदम पिटाई से छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। शरीर पर चोट के निशान उभर आए। छात्र ने घर लौट कर माता-पिता को आपबीती सुनाई तो पालक अगले दिन स्कूल पहुंचे। माजरा भांप स्कूल प्रशासन ने मामला शांत और रफा-दफा कराने की कोशिश की।

खाने में इल्लियां

पालक संघर्ष समिति के उपाध्यक्ष महेंद्र पराते ने जानकारी दी कि स्कूल में बच्चों को जो खाना दिया जाता है, उसकी गुणवत्ता खराब होती है। कई बार खाने में इल्लियां निकली हैं। ऐसे में पालक बच्चों को स्कूल का खाना खाने से मना करते हैं।
– छात्र के पिता बादल टेंभुर्णे के अनुसार, स्कूल में बच्चे की पिटाई करना पूर्ण रूप से गैर-कानूनी है। बच्चे को चोटें तो आईं ही हैं, मानसिक आघात भी पहुंचा है।
– संगठन अध्यक्ष अरविंद नांदगावे ने बताया कि संगठन ने स्कूल प्रशासन से शिक्षिका पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। ध्यान नहीं दिया तो संगठन शिक्षा विभाग से मदद की गुहार लगाएगा।

शांत हो गया है मामला

स्कूल में जो भी प्रकरण हुआ अब वह शांत हो चुका है। बच्चे की पिटाई करने वाली शिक्षिका से हमने पूछताछ शुरू कर दी है। पालकों से हमने सुलह भी कर ली है। अब किसी को कोई शिकायत नहीं है।
-पी.एच. माइकल, प्राचार्या

… news as published in danik bhaskar