Published On : Tue, Jan 22nd, 2019

शहर कांग्रेस का दिल्ली में डेरा, निष्ठावान और बड़े कद के नेता को उम्मीदवार बनाने की रखी माँग

नागपुर: नागपुर में लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार के नाम की घोषणा करने से पहले नगर कमेटी की सिफारिशों पर फैसला करे इस माँग पर प्रमुख नेताओं के समक्ष रखने के लिए नागपुर शहर कांग्रेस कमेटी ने दिल्ली में डेरा डाला हुआ है। एक साथ गए पार्टी के वरिष्ठ नेता और स्थानीय पदाधिकारियों ने सोमवार को राष्ट्रीय स्तर के प्रमुख नेताओं से मुलाकात की है। शहर से दिल्ली गए लगभग 90 नेताओं ने लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष और राज्य के प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे और वरिष्ठ नेता ए के एंटोनी से मुलाकात की मंगलवार को भी स्थानीय नेता कुछ अन्य प्रमुख नेताओं से मिलने वाले है। गौरतलब हो कि राहुल गाँधी के निर्देश पर महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने शहर और जिला कमेटी से चुनाव लड़ने के इच्छुक लोगों के नाम मँगाए है। नागपुर में यह प्रक्रिया पूरी भी की जा चुकी है। खुद राहुल गाँधी इसी प्रक्रिया के तहत ही प्रदेश कांग्रेस की सिफारिश पर उम्मीदवार के चयन को प्राथमिकता दिखाई देते दिख रहे है। बावजूद इसके अपनी बात पार्टी तक रखने के लिए नेताओं ने दिल्ली में कूच की है।

शहराध्यक्ष विकास ठाकरे,उम्मीदवारी के लिए आवेदन करने वाले बबनराव तायवाड़े,प्रदेश प्रवक्ता अतुल लोंडे,विशाल मुत्तेमवार,अभिजीत वंजारी,उमाकांत अग्निहोत्री के साथ कई नेता दिल्ली गए है। पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से भी ये नेता मुलाकात करने वाले है। इन सभी की माँग है कि उम्मीदवार का ,चयन करते समय शहर और राज्य कमेटी की सिफारिश को तवज्जों दी जाये। किसी बाहरी या हालही में आयातित व्यक्ति को छोड़कर निष्ठावान कार्यकर्त्ता और नेता को उम्मीदवार बनाया जाये।

दिल्ली पहुंचे स्थानीय नेता शहर की राजनीतिक गतिविधियों से भी पार्टी के प्रमुख नेताओं से अवगत कराने वाले है। इनका कहना है कि बीजेपी की ओर से लोकसभा चुनाव में संभावित उम्मीदवार नितिन गड़करी ही रहेंगे। इसलिए उनके ओहदे को देखते हुए पार्टी मजबूत टक्कर देने के लिए उनके कद के किसी समकक्ष नेता को उम्मीदवार बनाये। लोकसभा चुनाव के परिणाम का असर विधानसभा और भविष्य में होने वाले महानगर पालिका चुनाव पर भी होगा। तीन दिन दिल्ली में रुकने वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात के बाद स्थानीय नेता बुधवार को नागपुर वापस लौटेंगे।