Published On : Wed, Oct 29th, 2014

मूल में खेलने वाला बालक बनेगा मुख्यमंत्री

Devendra fadanvis
मूल (चंद्रपुर)। मूल में पढ़-लिख कर अपना बचपन गुजारने वाला एक नन्हा बालक देवेन्द्र आज लम्बा सफर तय कर 31 अक्टूबर 2014 को महाराष्ट्र के 18 वे मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने जा रहा है, जो मूल जैंसे छोटे-से गांव के लिए गौरवास्पद बात है. चंद्रपुर ज़िले के मूल में उनकी बचपन की यादें अब फिर ताज़ा हो रही हैं. उनके बचपन के तमाम दोस्त व अन्य परिचितों में उनकी भूरि-भूरि प्रशंसा हो रही है.

देवेन्द्र के परदादा अमृतराव फडणवीस मूल के प्रख्यात मालगुजार थे. नाना काशीराव व पिता गंगधरराओ फडणवीस, चाचा नाना पाटिल फडणवीस तथा चाची महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री व वर्तमान में विधान परिषद की सदस्य शोभाताई फडणवीस हैं. देवेन्द्र के पिता की प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षा मूल में हुई. उसके बाद वे 1950-55 के दौरान नागपुर जाकर बस गए. वहीं देवेन्द्र का जन्म हुआ. उसके बाद मूल में आकर प्राथमिक शिक्षा के साथ-साथ राजनीती की भी शिक्षा बचपन में मिली, जिसे कभी भूला नहीं जा सकता है. उनके बचपन के साथियों की ख़ुशी आज दिखाई दे रही है. देवेन्द्र को कृषि की अच्छी जानकारी है. उनसे चंद्रपुर के किसान की समस्याओं से वाकिफ भी है, वे उम्मीद करतें हैं कि, उनकी समस्याएँ कालांतर में सुधार होंगी, साथ ही मूल की जनता को उम्मीद है कि, पूरे महाराष्ट्र की प्रगति में वे अपना पूरा-पूरा योगदान देंगे.