Published On : Fri, Aug 16th, 2019

वैन से कुचलकर बालक की मौत

गुस्साई भीड़ ने की स्कूल वैन की तोड़फोड़, मामला दर्ज

गोंदिया: 15 अगस्त को जहां शहर में स्वतंत्रा दिवस की खुशियां मनाई जा रही थी, वहीं श्रीनगर के चंद्रशेखर वार्ड के मुर्री रेल्वे क्रासिंग निकट येरणे कॉम्प्लेक्स के सामने उस वक्त मातम पसर गया जब डेढ़ वर्षीय मासूम बालक धैर्य बावनकर इसे एक स्कूल वैन ने कुचल दिया।

हादसे के बाद ड्रायवर फरार हो गया, गुस्साई भीड़ ने स्कूल वैन के कांच फोड़ दिए तथा उसे आग के हवाले करने का प्रयत्न किया। गनीमत थी कि, पुलिस सूचना मिलते तत्काल घटनास्थल पर पहुंची और पब्लिक पर काबू पाया तथा टोइंग वैन की मदद से ट्राफिक पुलिस ने स्कूल वैन को शहर थाने में लाकर जब्त कर लिया।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार 15 अगस्त को एस.सी.एस.इंग्लिश स्कूल गोंदिया में ध्वजारोहण का कार्यक्रम था। कार्यक्रम उपरांत स्कूल वैन क्र. एमएच. 35/के. 3704 यह बच्चों को घर छोड़ने हेतु निकली।

मुर्री के बावनकर परिवार के घर के सामने आकर दोपहर 1.30 बजे वैन रूकी तो फर्यादी मुकेश बावनकर यह अपने भतीजे को वैन से उतारने हेतु पीछे की ओर वैन का दरवाजे खोलने गया इसी दौरान डेढ़ साल का बच्चा धैर्य यह वैन के सामने आकर खड़ा हो गया। बच्चा छोटा होने की वजह से स्टेरिंग सीट पर बैठे ड्रायवर को ऩजर नही आया और उसने छात्र के उतरते ही एक्सीलेटर बढ़ा दिया।

वैन तेजी से आगे बढ़ी और धैर्य नामक बच्चे का सिर चक्के के नीचे आकर कुचल गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद चीख पुकार और अफरा-तफरी मची। पिटाई के डर से ड्रायवर भाग गया, गुस्साई भीड़ ने वैन के कांच तोड़ दिए।

इस संदर्भ में शहर पुलिस ने फर्यादी मुकेश बावनकर की शिकायत पर लापरवाही पूर्वक वाहन चलाने का जुर्म वैन के फरार चालक के खिलाफ धारा 279, 304 (अ) सहकलम 134, 184, 187, 197 मो.वा.का के तहत दर्ज किया है। मृत बालक के शव का पोस्टमार्टम करने के बाद लाश परिजनों को सौंप दी गई। मामले की जांच पुलिस उपनि. काशिद कर रहे है।

रवि आर्य