Published On : Wed, Mar 7th, 2018

गंभीर बीमारी पर होने वाली जाँचों पर मेडिकल में लिया जा रहा है शुल्क

GMCH Nagpur
नागपुर: शहर के प्रमुख सरकारी अस्पताल मेडिकल में कैंसर के मरीजों से विभिन्न जाँच के लिए अब शुल्क लिया जा रहा है। पहले मुफ्त में मिलने वाली इस सुविधा के लिए अब पैसे का भुगतान लिया जा रहा है जिससे मरीजों की दिक्कतें बढ़ गयी है। दरअसल गंभीर बीमारी के मरीजों से शुल्क राज्य सरकार द्वारा जारी परिपत्रक में दिए गए आदेश के बाद से लिया जा रहा है।

अब तक कैंसर, थैलेसीमिया, टीबी जैसी गंभीर बीमारी के लिए होने वाली विभिन्न जाँचों के पैसे नहीं लिए जाते थे। अस्पताल के रेडिओथेरेपी विभाग में शुल्क लिया जा रहा है जो पहले नहीं लिया जाता था। आम तौर पर अस्पताल में भर्ती मरीजों को शुरुवाती दिनों में ही रेडियोथेरेपी और कीमोथेरेपी करवाने पर ही बड़ी रकम सिर्फ जांचों में ही खर्च हो जाती है ऐसे में मेडिकल में मिलने वाली सुविधा गरीब और सामान्य वर्ग के मरीजों के लिए बड़ी सहूलियत का काम करती थी।

मेडिकल के रेडियोथेरेपी विभाग ओपीडी में हर दिन करीब 125 मरीज पहुँचते है। हर दिन 100 के लगभग मरीजों की रेडियोथेरेपी कीमोथेरेपी की जाती है। इस थेरेपी के पहले शरीर की जाँच के लिए पहले केएफटी, एलएफटी, सीबीसी सहित कई जांचें करवानी पड़ती हैं। मेडिकल में पूर्व में इन जांचों के कभी पैसे नहीं लगते थे, लेकिन हाल ही में आए एक परिपत्रक के बाद मरीजों से जांच के रुपए वसूल किए जाने लगे।

लंबे समय से मेडिकल में ईलाज करवा रहे परिजनों के लिए मिलने वाली सहूलियत अब ख़त्म हो चुकी है जिससे उनकी परेशानी भी बढ़ चुकी है।