| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, May 4th, 2020

    लॉकडाउन के दौरान मध्य रेल पार्सल ट्रेफिक 2000 टन के पार

    नागपूर– लॉकडाउन के कारण आवश्यक वस्तुओ के रसद संकट को कम करने के लिए कोविड -19 विशेष पार्सल ट्रेनों के प्रचार और इष्टतम उपयोग के लिए रेल्वे बोर्ड द्वारा एक राष्ट्रिय स्तर पर आव्हान किया गया. मण्डल रेल प्रबन्धक सोमेश कुमार के नेतृत्व मे वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबन्धक कृष्णाथ पाटिल के मार्गदर्शन मे एवं सहायक वाणिज्य प्रबन्धक (कोचिंग) के निरीक्षण मे राष्ट्रिय हित को ध्यान मे रखते हुए अभिनव कदम उठाए तथा पार्सल परिवहन को बढ़ाने के लिए अथक प्रयास किया जा रहा है.

    नागपुर मण्डल पर पार्सल यातायात को बढ़ाने के लिए निम्न उपाय / प्रयास किए गए :-
    ऑन लाइन मीटिंग का उपयोग करते हुए सभी स्टॉक होल्डर्स, ट्रेडर्स / व्यापारी, कृषि निकाय, चेम्बर ऑफ कॉमर्स, औद्योगिक निकाय के साथ नियमित तौर पर बैठको का आयोजन किया गया,नागपुर मण्डल पर पार्सल सेवाओ के बारे मे जनता तक जानकारी पहुँचाने के लिए स्थानीय नेताओ, सलाहकार समिति के सदस्यो की मदद ली गयी, विशेष पार्सल गाड़ियों की जानकारी समय – समय पर समाचार पत्रो मे सकारात्मक खबरे प्रकाशित हुई.

    रेडियो तथा इलेक्ट्रोनिक मीडिया द्वारा पार्सल गाड़ियों का व्यापक प्रसारण किया गया. परिणामस्वरूप पार्सल ट्रेफिक मे बढ़ोतरी हुई. सम्मानीय ग्राहको की आवश्यकताओ के लिए एक समिति गठित की गई तथा पार्सल की गतिविधियों को बढ़ाने के लिए दो स्तरीय ‘पार्सल ट्रेफिक टास्क फोर्स” का गठन किया गया.“ई कॉम मेजर्स “ के तहत ग्राहको का ध्यान केन्द्रित करने के लिए प्रचार विपणन कॉल करना, .आवश्यक दवाओ के परिवहन के लिए आय.आर..टी.एस (IRTS) प्रोबेशनर्स द्वारा चलाये जा रहे “सेतु सेवा “ के साथ टायअप करना .

    नागपुर मण्डल पर उपरोक्त गतिविधियों के परिणामस्वरूप लॉकडाउन अवधि के दरम्यान नागपुर मण्डल से 1142 टन पार्सल ट्रेफिक और गोधनी से न्यू तिनसुखिया पीईसीटी (PECT) के लिए 896 टन पार्सल ट्रेफिक हुआ.लॉकडाउन के दौरान कुल आउटवर्ड पार्सल ट्रेफिक 63.36 लाख रुपये की कमाई के साथ 2038 टन तक पहुँच गया.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145