Published On : Fri, Jul 2nd, 2021

किसानों को तत्काल बोनस प्रदान कर , रबी फसल का धान शीघ्र उठाया जाए- डॉ.परिणय फुके

भाजपा ने विपणन अधिकारी कार्यालय को ताला ठोंक चाबी जिलाधीश को सौपी

गोंदिया/भंडारा। धान उत्पादक किसानों के विभिन्न मुद्दों व मांगों को लेकर भारतीय जनता पार्टी की ओर से आज 2 जुलाई को विपणन अधिकारी कार्यालय पर ताला ठोक आंदोलन किया गया।

Advertisement

इस अवसर पर आंदोलन को संबोधित करते हुए सांसद सुनील मेंढे ने कहा- किसानों को गुमराह कर राजनीति नहीं की जा सकती, सभी मोर्चो पर विफल रही सरकार किसानों को ठगना बंद करें नहीं तो भविष्य में आंदोलन और तेज होगा।

इस अवसर पर विधायक डॉ. परिणय फुके ने भी किसानों की विभिन्न मांगों पर प्रकाश डालते कहा- धान उत्पादक किसानों को तत्काल बोनस प्रदान कर रबी फसल का धान शीघ्र उठाया जाए, राज्य सरकार ने केवल 50 प्रतिशत बोनस राशि स्वीकृत की है, यह महाविकास आघाड़ी सरकार किसानों के बोनस को भी निशाना बना रही है, धान उत्पादक किसानों को दी जाने वाली बोनस राशि अभी तक प्रदान नहीं की है, जिससे भंडारा-गोंदिया जिले सहित पूर्व विदर्भ के धान उत्पादक किसानों के साथ अन्याय हो रहा है।

डॉ. फुके ने आगे कहा- वर्तमान में कृषि गतिविधियां शुरू हो गई है, किसानों को बीज, उर्वरक व अन्य कृषि उपकरण खरीदने के लिए रूपयों की आवश्यकता है, लेकिन सरकार द्वारा उनके अधिकार के बोनस का भूगतान न किए जाने से धान उत्पादकों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

धान उत्पादक किसानों को अप्रैल माह में बोनस मिलने की उम्मीद थी लेकिन जून माह बीत चुका है उन्हें अब तक बोनस नहीं मिला है। साथ ही अधिकांश किसानों को सरकार द्वारा खरीदे गए अनाज का पैसा भी नहीं मिला है।

शासन द्वारा बिजाई की आपूर्ति की जाती है लेकिन कई किसानों को बिजाई नहीं मिली नतीजतन गरीब किसानों को महंगे बीज निजी दुकानों से खरीदने पड़ रहे है, इससे उनका आर्थिक शोषण हो रहा है।

खरीफ सीजन शुरू हो गया है लेकिन सरकार ने अब तक गर्मी का अनाज नहीं उठाया है , ऐन सीजन में सरकार किसानों को आर्थिक तंगी पहुंचाकर उनके साथ अन्याय कर रही है, यह अन्याय भारतीय जनता पार्टी कभी बर्दाश्त नहीं करेगी, यदि शीघ्र ही बोनस का भूगतान नहीं किया गया तो गोंदिया एंव भंडारा स्थित विपणन कार्यालय तथा जिला कलेक्टर कार्यालय पर ताला लगा दिया जाएगा, एैसी चेतावनी भी भाजपा की ओर से दी गई।

आंदोलन में जिलाध्यक्ष शिवराम गिर्‍हेपुंजे, किसान मोर्चा के अध्यक्ष अविनाश ब्राम्हणकर, ब्रम्हणद करंजेकर, नेपाल रंगारी, वामन बेद्रे, राजेश बांते, तिलक वैद्य, हेमंत देशमुख, प्रदीप पडोले, सुदाम सहारे, विलास काटेखाये, मुन्ना फुंडे, घनश्याम खेडीकर, रेखाताई भाजीपाले, सौ. धनवंताताई राऊत, विनोद बांते, चंद्रप्रकाश दुरूगकर, महेंद्र निबार्ते, रामदास सहारे आदि भाजपा पदाधिकारी, कार्यकर्ता सहित हजारों किसान उपस्थित थे।

रवि आर्य

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement