Published On : Wed, Sep 22nd, 2021

बसपा ने नारायणा गुरु स्मृतिदिन मनाया

– तामिलनाडू मे अछुतो को अधिकार दिलाया

नागपुर – बहुजन समाज पार्टी दक्षिण नागपूर जनसंपर्क कार्यालय और मा कांशीरामजी सार्वजनिक वाचनालय न्यू कैलास नगर नागपूर मे बहुजन महापुरुष नारायणा गुरु का 93 वा स्मृतिदिन मनाया गया.

तामिलनाडू के वैकोंम मे अच्छुतो के लिये रास्ते पर चलने की जो पाबंदी ठी उसके खिलाफ नारायणा गुरु ने 1924 मे सत्याग्रह किया। उसमे पेरियार भी शरिक हुये थे, उस आंदोलनको सफलता मिली। उसी दरम्यान बाबासाहेब ने महाराष्ट्र के महाड मे चवदार तालाब का सत्याग्रह किया था इसलीये नारायणा गुरु हमारे बहुजन महापुरुष है इस तरह की जानकारी इस वक्त बसपा नेताओने दि।

स्मृतीदिन समारोह की अध्यक्षता बसपा के प्रदेश कार्यालय सचिव उत्तम शेवडे ने की। कार्यक्रम का संचालन दक्षिण नागपूर के नितीन वंजारी ने और समापन आकाश कावळे ने किया।

समारोह मे महिला नेता वर्षाताई वाघमारे, युवा नेता चंद्रशेखर कांबले, अभिलेश वाहाने, सदानंद जामगडे, शंकर थुल, प्रकाश फुले, धनराज हाडके, सुमित जांभुळकर, श्यामराव तिरपुडे, विद्यार्थी शेवडे, श्रीकांत हाडके आदि ने महापुरुष की जीवनी पर विचार व्यक्त किये.