Published On : Sat, Nov 22nd, 2014

चिमूर : नीलगाय शिकारियों का गिरोह गिरफ्तार


नीलगाय के मांस समेत दो बंदूक व बारूद जब्त

Bison Hunters
चिमूर (चंद्रपुर)। चिमूर वनपरिक्षेत्र के शंकरपुर डोमा बीट में नीलगाय का शिकार करनेवाले गिरोह को वनविभाग के अधिकारियों ने हिरासत में लिया. उनके पास से दो बंदूक व बारूद समेत नीलगाय का मांस जब्त किया गया. इसकी पुष्टि राउंड अफसर कीर्तने ने की. शंकरपुर वनक्षेत्र में काफी दिनों से वन्यजीवों का शिकार करनेवाला गिरोह सक्रिय था. यह गिरोह वन अधिकारियों को चकमा देकर वन्यजीवों का शिकार करता था. बीती रात कवडसी के आंबाई निंबाई क्षेत्र में इन लोगों ने नीलगाय का शिकार किया.

इसकी गुप्त जानकारी वनविभाग व पर्यावरण क्षेत्र में कार्य करनेवाले तरुण पर्यावरणवादी मंडल के कार्यकर्ताओं को मिली. वे तुरंत सक्रिय हुए और उन्होंने खापरी निवासी किसन श्रीरामे (37) को नीलगाय के मांस सहित पकडा पूछताछ के बाद भंडारा जिले के वायगांव निवासी दिवाकर वाघमारे (35) के घर छापा मारकर मांस व बंदूक जब्त की गई. इन दोनों ने दी जानकारी पर गिरोह के अन्य दो सदस्य कवडू नन्नावरे (45) कवडसी (देश) व सोमेश्‍वर शेंडे (37) हीरापुर को भी गिरफ्तार किया गया.

इन चारों अभियुक्तों ने 20 नवंबर रात 11:30 बजे के करीब बंदूक से नीलगाय का शिकार किया. उसके चार टुकडे. कर आपस में बांट लिए और अपने-अपने गांव ले जाकर उसकी बिक्री की. जिन लोगों ने मांस खरीदा उन्हें भी आरोपी बनाया गया है, जो फरार बताए जा रहे हैं. ये कार्रवाई सहायक वनसंरक्षक एस.बी. पंधरे, वनपरिक्षेत्र अधिकारी पी.एन. हुमने, वनपाल कीर्तने, वनरक्षक ठाकरे, नरड, मल्लेलवार, ठाकुर, नैताम, कुलमेथे, कोल्हे ने की. गिरफ्तार आरोपी तथा जब्त माल के साथ वन अधिकारी.