Published On : Wed, Jun 12th, 2019

शहर के चौराहो पर भिक मांगनेवाले बच्चों से वाहनचालक परेशान

सिग्नल पर रुकना हुआ मुश्किल

नागपुर : शहर में इन दिनों प्रत्येक चौराहों पर भिक मांगनेवाले छोटे छोटे बच्चे दिखाई दे रहे है. यह बच्चे सिग्नल पर रुके वाहनचालकों से उनके पैर पकड़कर, तो कभी उनकी गाड़िया साफ़ करके पैसे मांगते है. सिग्नल पर खड़े वाहनचालक कई बार परेशान होकर इन्हे पैसे दे देते है तो कईयों बार यह भी देखने में आया है कि इनसे बचने के लिए वाहनचालक सिग्नल भी तोड़ते है. जिससे दुर्घटना की आशंका भी बन रही है.

पंचशील टॉकीज चौक पर इनकी तादाद काफी है. रोजाना सिग्नल पर खड़े लोग इनसे परेशान हो रहे है. बावजूद इसके प्रशासन किसी भी तरह की ठोस कार्रवाई करते हुए नजर नहीं आ रहा है.बाल विकास विभाग की ओर से कुछ दिन पहले इन बच्चों को बर्डी पुलिस में लाया गया था. लेकिन थोड़ी देर वहां रहने के बाद यह बच्चे वहां से निकलकर फिर अपने अपने ठिकानों पर सक्रिय हो गए.


बर्डी चौक पर, सीताबर्डी चौक, कॉटन मार्किट चौक समेत अन्य जगहों पर भी यह बच्चे भिक मांग रहे है. सिग्नल पर इन बच्चों के द्वारा पैर पकड़कर भिक मांगने की वजह से रोजाना वाहनचालकों को शर्मिंदा भी होना पड़ रहा है. ऐसे में सवाल यह उठता है कि बाल विकास विभाग की ओर से जब इन बच्चो को रेस्क्यू किया जाता है तो इतने कम समय में यह बच्चे शेल्टर होम से वापस कैसे आ जाते है. इन बच्चों को रेस्क्यू कर इनके माता पिता पर फिर से कार्रवाई करने की मुहीम अब शहरभर के नागरिको की ओर से की जा रही है.

इस बारे में बाल विकास अधिकारी मुश्ताक पठान ने जानकारी देते हुए बताया की कुछ दिन पहले इन बच्चों को पंचशील चौक से बर्डी पुलिस स्टेशन लेकर गए थे. लेकिन वहां से यह से बच्चे कुछ देर बाद फिर वापस आ गए. आये दिन विभाग की ओर से कार्रवाई की जाती है.