Published On : Tue, Sep 17th, 2019

बंडू राऊत भी बने पहले के पहले अध्यक्ष

– राज्य में पहली दफा महाराष्ट्र राज्य केश शिल्प मंडल की स्थापना .

नागपुर : मध्यप्रदेश,राजस्थान,हरियाणा,छत्तीसगढ़,हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर महाराष्ट्र में भी नाई समाज का महामण्डल की स्थापना की मांग वर्षों से की जा रही थी.इसके लिए एकतरफा प्रयास मनपा के पूर्व स्थाई समिति सभापति व नाभिक समाज के नेता बंडू उर्फ़ सुधीर राऊत ने की.इसलिए सरकार ने महामंडल की गठन बाद पहला सभापति बनने का अवसर भी राऊत को ही दिया,महाराष्ट्र में नाभिक समाज के लिए महाराष्ट्र राज्य व अन्य पिछड़ा वर्ग वित्तीय व विकास महामंडल के अधीन ही महाराष्ट्र राज्य केशशिल्प मंडल स्थापित की गई.

याद रहे कि राज्य में नाभिक समाज की जनसंख्या २० से २५ लाख हैं.जो आर्थिक परिस्थिति के मद्देनज़र घूम-घूम कर,अस्थाई सैलून,स्थाई सैलून और वातानुकूलित सैलून के जरिये अपना और अपने पर आश्रितों का भरण-पोषण किया करते हैं.

इस राज्य में स्थानीय के अलावा बड़ी संख्या में अन्य राज्यों से नाभिक समाज के नागरिक रोजी-रोटी की तलाश में वर्षो पूर्व विभिन्न शहरों,कस्बों में आये और बस गए.महामंडल की स्थापना के लिए वर्षो से विभिन्न स्तर पर प्रयास किये गए.अंततः मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इस समुदाय को न्याय दिलवाने हेतु महामंडल के गठन हेतु अहम् जिम्मेदारी निभाई।

इस महामंडल के मार्फ़त उक्त सभी गरजू नाभिक समाज के लोगों को व्यवसाय करने हेतु जगह सह आर्थिक मदद की जाएंगी।साथ ही इस व्यवसाय को अपनाने वालों को आज के हिसाब से उत्कृष्ट प्रशिक्षण भी दी जाने की व्यवस्था की जाएंगी।जल्द ही इस महामंडल में अधिकारी,कर्मी की तैनातगी की जाएंगी।