Published On : Sat, Jan 13th, 2018

भवन निर्माण के लिए नागपुर यूनिवर्सिटी को बजाज समूह ने दिया रु. 5 करोड़ का चेक

Nagpur University
नागपुर: नागपुर यूनिवर्सिटी की अंबाझरी स्थित भव्य प्रशासकीय भवन निर्माण के लिए 5 करोड़ रुपए का दूसरा चेक बजाज समूह की ओर से दिया गया है. भवन के निर्माणधीन परिसर में एक अनौपचारिक समारोह में बजाज फाइनेंस के संचालक व शिक्षा मंडल, वर्धा के सभापति संजय भार्गव ने बजाज समूह की ओर से कुलगुरु सिध्दार्थविनायक काणे को 5 करोड़ का धनादेश दिया. दरअसल यूनिवर्सिटी प्रशासकीय इमारत 4 मंजिल की बन रही है. इस इमारत को ” जमनालाल बजाज प्रशासकीय परिसर’ का नाम दिया जा रहा है. इस इमारत के निर्माण पर कुल मिलाकर 30 करोड़ रुपए का खर्च आनेवाला है. जिसमें से 50 प्रतिशत निधि बजाज उद्योग समूह द्वारा सीएसआर फंड के अंतर्गत दिया जाना है. इससे पहले बजाज की ओर से 50 लाख रुपए आरंभ निधि दी गई थी.

इस समारोह में संजय भार्गव ने कहा कि बजाज समूह शिक्षा के कार्य के लिए कटिबद्ध है और आम लोगों का शिक्षा के प्रति विशेष लगाव है. जिसके कारण ही यह निधि नागपुर यूनिवर्सिटी को दिया गया है. इसका कार्य अब तेजी से होगा. इसकी उम्मीद भी उन्होंने की है. भार्गव ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर शिक्षा से वंचित रहनेवाले विद्यार्थियों के लिए पुणे परिसर में 100 स्कूलों को बनाया जा रहा है. विद्यार्थियों की क्षमताओं का विकास करना बजाज समूह का मुख्य उद्देश्य है.

इस दौरान कुलगुरु सिध्दार्थविनायक काणे ने कहा कि कैंपस विभाग के पास ही प्रशासकीय इमारत हो इस उद्देश्य को ध्यान में रखकर यह इमारत बनाई जा रही है. यह इमारत सभी सुविधाओं से लैस होगी. आनेवाले इतिहास में बजाज समूह का नाम स्वर्ण अक्षर में लिखने की बात भी उन्होंने इस दौरान कही.

इस समय कुलसचिव पूरनचंद्र मेश्राम, वित्त व लेखा अधिकारी राजू हिवसे, परीक्षा व मूल्यमापन विभाग के संचालक नीरज खटी, उपकुलसचिव प्रदीप बिनिवाले समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे.