Published On : Fri, Jan 13th, 2017

Video: बैगलिफ्टरों ने फिर उड़ाई कार में रखी लाखों रुपए की बैग

 नागपुर: हत्या की सिलसिलेवार घटनाओं के बाद नए साल का पखवाड़ा बीता भी ना था कि चार लुटेरों ने गुरुवार शाम को सरेराह एक कार से लाखों रुपए की बैगलिफ्टिंग कर सनसनी फैला दी है। घटना का सारा माजरा सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ है। घटना को अंजाम देनेवाले बाईक पर सवार चार लुटेरों की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। नागपुर टुडे के पाठक इस बैग लिफ्टिंग की सीसीटीवी वीडियो क्लिप भी देख सकते हैं।

मिली जानकारी के अनुसार यह बैगलिफ्टिंग सीए रोड पर श्याम मेडिकल के सामने गुरुवार ओशाम 6 बजे के आस पास हुई है। जहां मेडिकल स्टोर के सामने एक लाल रंग की कार खड़ी थी। इस कार में ड्रायवर बैठा हुआ था, कि अचानक पीछे से 3 से 4 व्यक्ति आए। जिसमें से एक व्यक्ति ने बड़ी ही चालाकी से कार के सामने 10-10 रुपए के नोट गिरा दिए। इसी गिरोह में शामिल अन्य व्यक्ति ने कार में बैठे ड्रायवर को गिरे हुए नोटके बारे में ड्रायवर को जानकारी दी। ड्रायवर सड़क पर गिरे हुए नोटों की लालच में आकर उसे उठाने के लिए कार से बाहर निकला। ड्रायवर के रुपयों के उठाने में जुटते ही गिरोह में शामिल गुर्गे सतर्क हो गए और कार के भीतर रखे बैग को पलक झपकते ही निकालकर रफुचक्कर हो गए। जब ड्रायवर दस-दस रुपए के नोट बटोर कर कार के भीतर पहुंचा तो कार में रुपयों और सोने से भरी बैग नदारद दिखाई दी। यह देखकर उसके पैरों तले जमीन खिसक गई।

बताया जा रहा है कि कार और कार में रखा बैग किसी महिला डॉक्टर का है। बैग में साढ़े छह लाख रुपए नकद और 2 तोला सोना रखा हुआ था। मामला जब कोतवाली थाने पहुंचा तो जांच में पुलिस को यह सारी घटना एक सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में भी दिखाई दी। महिला डॉक्टर अपना नाम मीडिया के सामने नहीं लाना चाहती। लेकिन इस घटना से पुलिस विभाग भी सक्ते में आ गया है। नोट गिरा कर लोगों के साथ धोखे से पैसे उड़ाने की कई घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं। उसी पैटर्न में घटना को अंजान में देने से दोबारा उसी गैंग के सक्रीय होने के भी कयास लगाए जा रहे हैं। फिलहाल इस पूरे मामले की पुलिस गहन जांच कर रही है। सीसीटीवी फुटेज में आरोपियों की तस्वीरें पुलिस के लिए बड़ा औजार साबित हो सकते हैं।