Published On : Tue, Nov 11th, 2014

काटोल : अन्ना हजारे ने ‘ई-पीढ़ी’ बच्चों से किया संवाद


राष्ट्रविकास व राष्ट्रहित को ध्यान में रखकर करे मार्गदर्शन – अन्ना हजारे

Anna Hajare  (1)
काटोल (नागपुर)।
ई-पीढ़ी संस्था के अॅबॅकस विषय पर 5 से 14 उम्र के विद्यार्थियों ने शैक्षणिक पिकनिक के लिए रालेगण सिद्धि गांव को भेट दी. विद्यार्थियों ने इस गांव की कार्यप्रणाली समझने के लिए यहां के स्कूलों, कॉलेजों, हॉस्टलों, मीडिया केंद्र, खेल का मैदान और पद्मावती देवस्थान को भेट दी. आर्थिक और सामाजिक इन दोनों पर सफलता प्राप्त करने के लिए प्रयास करना पड़ता है इसके लिए ग्रामविकास और ग्राम स्वच्छता का महत्व विद्यार्थियों ने समझा.

इस दौरान जेष्ठ समाजसेवक अन्ना हजारे ने विद्यार्थियों का प्रभावी मार्गदर्शन करते हुए जीवन में छोटे सुखों के पीछे ना भागते हुए राष्ट्रविकास व राष्ट्रहित को ध्यान में रखकर कार्य करे ऐसा मार्गदर्शन उन्होंने किया. जीवन जीते हुए कोई भी कलंक नहीं लगना चाहिए, कलंक लगने से मनुष्य के शब्दों की कोई किमत नहीं रहती ऐसा अन्ना ने बच्चों से कहा.

Anna Hajare
इस दौरान ई-जनरेशन के संचालक योगेश भोसे, युगा भोसे, समन्वयक पी.पद्मा, कमलेश क्षीरसागर, आसावरी मोहितकर, कपिल बालपांडे, शिवानी देशमुख, मनोज सावरकर, लता देशमुख समेत ई-जनरेशन के नन्हे-मुन्हे बच्चें उपस्थित थे.