Published On : Mon, Jul 20th, 2015

अमरावती : मोदी सरकार के विरोध में प्रदर्शन

Advertisement


भाकपा का आंदोलन 

20 Prdashan
अमरावती।
ना मै खाऊगा और ना औरो को खाने दुंगा, मै तो आपका सेवक बन के सेवा करता रहुंगा की बात कर नरेद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बन गए, किंतू मोदी सरकार ने सत्ता हासिल करते ही भ्रष्टाचार पर भ्रष्टाचार करना शुरु कर दिया है. मोदी सरकार के इन भ्रष्टाचारों के विरोध में सोमवार को राजकमल चौक पर भारतीय कम्युनिष्ठ पक्ष व माक्र्सवादी कम्युनिष्ठ पक्ष के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया.

उन्होंने केंद्रीय मंत्री स्मृति इराणी की फर्जी पदवी, मप्र के व्यापम घोटाले, छतीसगढ के सीएम रमणसिंह व्दारा करोडों के चावल घोटाले, महाराष्ट्र की मंत्री पंकजा मुंडे व विनोद तावडे के फर्जी डिग्री घोटाले उजागर होने के बावजूद बचाव से भाजपा सरकार की नियम साफ स्पष्ट होती है. कांग्रेस-राका की तरह भाजपा सरकार भी भ्रष्टचार करने वाले नेताओं को बचाने का आरोप कार्यकर्ताओं ने लगाया है. आंदोल करने वालों में तुकाराम भस्मे, उदयन शर्मा, शरद सुरजुसे, सुभाष पांडे, पी.बी.उके, सुनील मेटकर, प्रभाकर आकोटकर, उमेश बनसोड, गणेश अवझाडे, प्रतिभा शिंदे, चंदा वानखडे, सागर दुर्योधन, ओमप्रकाश कुटेमाटे, विनोद जोशी समेत अन्य थे.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement