Published On : Wed, Jul 1st, 2015

अकोला : मालपुरा हत्या मामला : चारों मृतकों का किया गया सामूहिक अंतिम संस्कार


अकोला।
हिवरखेड पुलिस थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम मालपुरा में रविवार को दो एकड खेत के लिए एक ही परिवार के चार सदस्यों की गला काटकर निर्ममता से हत्या कर दी गई थी. सोमवार को दोपहर में गांव के समीप स्थित खेत में चारों का सामूहिक अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान चरहाटे परिवार एवं रिश्तेदारों का आक्रोश दिल दहलाने वाला था. दौरान पकडे गए ताबालिग आरोपी को बाल सुधारगृह में जबकी दूसरे आरोप को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दो आरोपीयों को पुलिस हिरासत में रख्ग्ने के निर्देेश दिए गए है. चारों आरोपी जिस आटो रिक्षा से मालपुरा गए थे उसे आटो रिक्षा के चालक को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

ज्ञात हो कि रविवार की शाम तेल्हारा तहसील का मालपुरा रक्तरंजित हो उठा. एक ही परिवार के चार सदस्यों को रिश्ते में सगी बुआ तथा भाईयों की बहन नें अपने बेटों और पति के सहयोग से मौत के घाट उतार दिया था. कडे पुलिस बंदोबस्त में चारों का अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान पूरे गांव में सन्नाटा छाया रहा. आरोपीयों को अकोट पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने के बाद हिवरखेड पुलिस को सौंप दिया गया. जिसमें से नाबालिग मंगेश हरीभाऊ तेलगोटे की रवानगी बाल सुधारगृह में की गई. जबकि हरिभाऊ तेलगोटे के बाए पैर में फ्रैक्चर हो जाने के कारण सर्वोपचार अस्पताल में उसे भर्ती कराना पडा है. जबकि द्वारका उर्फ़ उज्वला हरिभाऊ तेलगोटे व कुंदन हरिभाऊ तेलगोटे इन मां-बेटों को केड पुलिस बंदोबस्त में सोमवार को तेल्हारा न्यायालय में उपस्थित किया गया. न्यायालय ने उन्हें 8 जुलाई तक पुलिस हिरासत में रखने के आदेश दिए हैं.

जिस आटो रिक्शा से आरोपी अकोट से मालपुरा पहुंचे थे उस आटो चालक को भी पुछताछ के लिए पुलिस ने हिरासत में लिया है. लेकिन यह बात उनके बेटों को हजम नहीं हुई थी और उन्होंने लहलहाती फसल उखाडकर खेत कब्जे में ले लिया था. जिससे द्वारकाबाई आक्रोशित थीं. रविवार को सोची समझी साजिश के साथ चारों आरोपी मालपुरा पहुंचे और उन्होंने अपने परिवार के ही सगे संबंधियों को काट डाला. मामले में यश बाबूराव चरहाटे की शिकायत पर हिवरखेड पुलिस ने भादंवि की धारा 302, 34 के तहत चारों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

Akola Murder of 4