Published On : Fri, Nov 26th, 2021

मेडिकल छात्रा पर गोली चलाने वाला युवक गिरफ्तार

दोबारा हमला करने पुणे से नागपुर लौटा युवक,दो बार आत्महत्या का प्रयास

नागपुर। प्रेम संबंध में प्रेमी से किनारा करने वाली 24 वर्षीय मेडिकल की छात्रा पर पिस्टल से फायर करने वाले आरोपी को अपराध शाखा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी का नाम विक्की राधेश्याम चकोले (28) वलनी, खापरखेड़ा निवासी है। युवती मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में पैरामेडिकल (बीपीएमटी) की छात्रा है। आरोपी ने गत 22 नवंबर को हत्या का प्रयास किया था। आरोपी फरार था, जिसे 3 दिन बाद रेलवे स्टेशन के पास जनता भोजनालय के पास पकड़ा गया। उससे मैगजीन के साथ एक जीवित कारतूस जब्त किया गया है।

दोस्त ने घर से भगाया

पैरामेडिकल छात्रा और विक्की के बीच करीब 9 माह से प्रेम संबंध को लेकर अनबन चल रही थी। घटना के दिन विक्की छात्रा को ऑटो से बाहर ले जाना चाहता था, लेकिन छात्रा द्वारा इनकार करने पर उसने पिस्टल निकाली और छात्रा को जान से मारने का प्रयास किया था, लेकिन किस्मत से गोली नहीं चली और छात्रा की जान बच गई। घटना के बाद विक्की निजी बस से अपने दोस्त के घर पुणे फरार हो गया। दोस्त को विक्की की करतूत पता चल चुकी थी, इसलिए उसने उसे घर से भगा दिया। विक्की दोबारा पुणे से ट्रक से वाड़ी नागपुर आया। अपराध शाखा पुलिस को उसके नागपुर में आने की खबर मिली। पुलिस ने उस पर नजर रखनी शुरू कर दी। वह मेडिकल चौक गया। वहां से लोहापुल होते हुए नागपुर रेलवे स्टेशन की ओर पहुंचा, तभी पुलिस ने उसे दबोच लिया।

पर्स में मिला सुसाइड नोट


पुलिस के अनुसार विक्की दोबारा नागपुर छात्रा की हत्या करने के इरादे से वापस आया था। गुरुवार को आरोपी को अजनी पुलिस के हवाले कर दिया गया। आरोपी विक्की के पर्स से सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने इस बात का जिक्र किया है कि वह छात्रा की हत्या करने के बाद आत्महत्या करने वाला था। विक्की के परिवार में माता-पिता, बहन और भाई हैं। दोनों में करीब 3 साल से जान-पहचान थी। दोनों का एक-दूसरे के घर आना-जाना था। मेडिकल में प्रवेश लेने के बाद छात्रा ने उससे दूरी बनानी शुरू कर दी थी।

दो बार आत्महत्या का प्रयास

सूत्रों के अनुसार विक्की का छात्रा से काफी लगाव था। वह छात्रा से मिलने गया, लेकिन छात्रा के इनकार करने पर उसकी हत्या का प्रयास किया। विक्की खुद इसके पहले दो बार आत्महत्या की कोशिश कर चुका था। दोनों बार वह अस्पताल में करीब 8 दिनों तक भर्ती था।

फिल्म सिटी में करता था नौकरी

सूत्रों के अनुसार विक्की मुंबई के फिल्म सिटी में कौन बनेगा करोड़पति के सेट पर फायर सेक्शन में 12 हजार रुपए की नौकरी करता था। वह प्रेमिका द्वारा कन्नी काटने पर मुंबई के एक दोस्त से 40 हजार रुपए में पिस्टल और दो जीवित कारतूस खरीदा। इसी पिस्टल से छात्रा पर फायर करने का प्रयास किया। वह छात्रा को तनु नाम से बुलाता है। उसने सुसाइड नोट में तनु नाम लिखा है। कार्रवाई में सहायक पुलिस निरीक्षक मयूर चौरसिया, नायब सिपाही रवि अहीर, नरेंद्र ठाकुर, सिपाही सागर ठाकरे, संदीप मावलकर, आनंद यादव व अन्य ने सहयोग किया।