| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, May 26th, 2017
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    सत्र खत्म होने के बाद नागपुर विश्वविद्यालय प्रशासन ने होस्टल में जड़े ताले

    Nagpur University
    नागपुर: 
    राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के रवि नगर के लॉ कॉलेज चौक स्थित होस्टल में सत्र समाप्त होने के बाद विद्यार्थियों को होस्टल खाली करने के लिए कहा गया था. गुरुवार को विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा लोअर हॉस्टल के 5 ब्लॉक के 190 कमरों में ताले जड़ दिए गए. इस होस्टल में कुल 380 विद्यार्थी रहते हैं. होस्टल में ताले लगने के कारण विद्यार्थियों को दूसरा सत्र शुरू होने तक दूसरी जगह पर आसरा ढूंढना होगा. इस होस्टल में मास्टर डिग्री करनेवाले विद्यार्थी रहते हैं. राज्य सरकार के शिक्षा मंत्रालय का यह नियम है कि सत्र समाप्त होने के बाद विद्यार्थी हॉस्टल खाली करें.

    गर्मियों में छुट्टियां होने की वजह से इन हॉस्टलों में रहनेवाले कुछ विद्यार्थी नागपुर शहर छोड़कर अपने गांव जा चुके हैं, तो वहीं कुछ विद्यार्थी अब भी हॉस्टल में रह रहे हैं. विद्यार्थियों को हॉस्टल में रहने की सहूलियत दी जाए. इस मांग को लेकर विद्यार्थियों की ओर से गुरुवार को नागपुर विश्वविद्यालय के कुलगुर डॉ.सिध्दार्थविनायक काणे को निवेदन भी दिया गया था. लेकिन विद्यार्थियों की यह मांग नहीं मानी गई. विद्यार्थियों ने जानकारी देते हुए बताया कि विश्वविद्यालय प्रशासन से उन्होंने यह गुहार लगाई थी कि उन्हें सत्र शुरू होने तक होस्टल में रहने दिया जाए. विद्यार्थियों ने कुलगुरु से यह भी कहा कि वे रूम का इलेक्ट्रिक बिल और कुछ किराया भी देने को तैयार हैं. लेकिन उन्होंने विद्यार्थियों की मांग ठुकरा दी.

    इस बारे में कुलगुरु डॉ. सिध्दार्थविनायक काणे ने कहा कि दूसरे सत्र में दूसरे विद्यार्थियों को होस्टल में रहने का मौका मिले. नियमों के कारण ही सत्र समाप्त होने के बाद हॉस्टल खाली कराया गया है. जिसमें नियमों के तहत ही होस्टल के रूमों में ताले लगाए गए हैं. कुलगुरु ने जानकारी देते हुए बताया कि विद्यार्थियों की मांग थी कि उन्हें होस्टल में रहने दिया जाए. लेकिन यह मांग पूरी तरह से गलत है. सत्र समाप्त होने के बाद विद्यार्थियों को हॉस्टल खाली करने ही होते हैं.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145