Published On : Mon, Dec 4th, 2017

पास के स्कूलों में होगा 5002 स्कूलों के विद्यार्थियों का समायोजन : विनोद तावड़े

Vinod Tawde
नागपुर: विद्यार्थियों में गुणवत्ता व उनका शैक्षणिक नुक्सान राज्य सरकार को करना नहीं है और जिसके कारण ही दस से कम संख्या वाली 5 हजार 2 स्कूलों के विद्यार्थियों का समायोजन करने की बात राज्य के शिक्षामंत्री विनोद तावड़े ने कही है. कम विद्यार्थियों की संख्या वाली राज्य की स्कूलों की सर्वेक्षण रिपोर्ट तैयार की गई है. इसमें राज्य के कुल स्कूलों में से 5 हजार 2 स्कूलों के विद्यार्थियों की संख्या 0 से लेकर 10 तक है. राज्य की प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल बंद न करते हुए इन स्कूलों के विद्यार्थियों का और शिक्षकों का, पास की ही स्कूलों में समायोजन किया जाएगा. इस संबंध में जानकारी देने के लिए मंत्रालय में पत्र परिषद का आयोजन किया गया था जिसे शिक्षामंत्री विनोद संबोधित कर रहे थे.

इस दौरान शिक्षामंत्री ने बताया कि समायोजन करते समय विद्यार्थियों की गुणवत्ता बरकरार रखने के साथ उनका शैक्षणिक नुक्सान नहीं होगा. यह भी जानकारी शिक्षामंत्री ने दी. साथ ही विद्यार्थियों को दी जानेवाली शिक्षा गुणवत्तापूर्ण हो यह महत्त्व का है. जिसमें शिक्षकों को नौकरी व ट्रांसफर का प्रश्न नहीं आता. आज अनेक ऐसी स्कूलें हैं जो पहाड़ों और दुर्गम भागों में है, जहां पर विद्यार्थियों की संख्या 0 होने के बावजूद भी वह शुरू है.

तावड़े ने कहा कि कुल 5 हजार 2 स्कूलों में से 4,353 स्कूल जिला परिषद की हैं. जिला परिषद की स्कूलों में कुल 8,072 शिक्षक हैं. निजी अनुदानित स्कूल 69 हैं. निजी अनुदानित स्कूलों में 220 शिक्षक हैं. ऐसी कुल 0 से 10 विद्यार्थियों की संख्यावाली कुल 4, 422 स्कूलें हैं. 4,422 स्कूलों में 28,412 विद्यार्थी शिक्षा ले रहे हैं. बचे 580 स्कूल यह आदिवासी, बिना अनुदानित, सामाजिक न्याय इसमें हैं. तो वहीं 2,097 स्कूलों का स्थलांतर हो सकता है. लेकिन उन्हें वाहनों की सुविधा उपलब्ध कराकर देनी होगी. इस सर्वेक्षण के दौरान 909 स्कूलों का स्थलांतर नहीं किया जा सकता. ऐसा सर्वेक्षण में दिखाई दिया. जिसके कारण यह स्कूल बंद नहीं की जा सकती.

कम गुणवत्ता वाली स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या दिन ब दिन कम हो रही है. इन स्कूलों में विद्यार्थियों को रखकर उनका शैक्षणिक नुक्सान शालेय शिक्षा विभाग को नहीं करना है. जिसके कारण स्कूलों के विद्यार्थियों का समायोजन अच्छी स्कूलों में करने का निर्णय लिया गया है. पहले चरण में 1,314 स्कूलों के विद्यार्थियों का सामायोजन करने की जानकारी इस समय शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने दी.

1,314 स्कूलों की कक्षानुसार आकड़े नीचे दिए गए हैं

मुंबई विभाग

मुंबई उपनगर –1
ठाणे – 45
पालघर – 32
रायगढ़ – 103

नाशिक विभाग

जलगांव -8
धुले – 7
नंदुरबार -5
नाशिक -31

पुणे विभाग

पुणे -76
सोलापुर -21
अहमदनगर – 49

कोल्हापुर विभाग

कोल्हापुर -34
रत्नागिरी -192
सांगली – 16
सातारा -73
सिंधुदुर्ग – 155

औरंगाबाद विभाग

औरंगाबाद -40
जालना -6
परभणी – 14
बीड -23
हिंगोली -4

लातूर विभाग

लातूर- 8
उस्मानाबाद – 7
नांदेड – 68

अमरावती विभाग

अमरावती – 49
अकोला – 18
वाशिम -9
यवतमाल -30
बुलढाणा – 8

नागपुर विभाग

नागपूर -24
वर्धा -29
भंडारा -12
गोंदिया- 32
चंद्रपुर -53
गडचिरोली-42