Published On : Tue, May 2nd, 2017

सैनिकों के साथ हुए व्यवहार पर मौन मोदी सरकार से पत्रकार ने माँगा जवाब

Sudarshan Chakradhar

Sudarshan Chakradhar

नागपुर: भारतीय सैनिकों के शरीर के साथ पाकिस्तानी फ़ौज द्वारा की बर्बरता पर देश का ग़ुस्सा फिर एक बार फ़ूट पड़ा है। मोदी सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल के दौरान तीन बार सैनिको के शरीर के साथ ऐसा बर्ताव किया गया है। जम्मू कश्मीर के पुंछ में शहीद हुए प्रेम सागर के शरीर के साथ पाकिस्तानी फ़ौज ने इंसानियत को शर्मसार करने वाला व्यवहार किया। शहीद की बेटी ने देश के एक सैनिक के बदले 50 दुश्मन सैनिकों के शव लाने की माँग की है। इस घटना के सामने आने के बाद सोशल मीडिया के माध्यम से लोग अपनी भावनाओं को प्रगट कर रहे है। नागपुर के पत्रकार सुदर्शन चक्रधर ने एक कविता लिखकर सरकार ने ज़वाब माँगा है।

*हरा सर्प*
********************
क्षत-विक्षत शव पूछ रहा
आज रक्तिम घाटी का,
कब खौलेगा खून बताओ
56 इंची छाती का ?

सरहद पर हुई बर्बरता
ये कायरता ‘नापाकी’ है,
2 के बदले 10 शीश
अब भी लाना बाकी है !

दुश्मन है ये बार-बार
आता क्यों नहीं बाज कभी ?
‘मुँह तोड़’ जवाब दोगे कब…
वक़्त आया है आज अभी !

शस्त्र उठाओ, बदला लो
कमर तोड़ दो, वार करो,
उठो देश के भक्तों अब…
‘हरा सर्प’ संहार करो !

@ सुदर्शन चक्रधर
09689926102