Published On : Thu, Nov 22nd, 2018

इंडियन रोड काँग्रेस का 79 वा वार्षिक सत्र 22 नवंबर से नागपुर में

देशभर से आएंगे 3 हजार विशेषज्ञ

.

नागपुर: लोक निर्माण विभाग मेजबानी में इंडियन रोड कांग्रेस का 79 वां सत्र 22 नवंबर से कोराडी रोड स्थित मानकापुर के डिवीजनल स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स (मानकापुर स्टेडियम) में सुरू हो रहा हैं। आयोजित किया जाएगा। नागपुर को चौथी बार इस सम्मेलन की मेजबानी करने सन्मान मिला हैं। इस सम्मेलन में देश भर से और विदेशों में से 3,000 वैज्ञानिक, इंजीनियर और सड़क विकास विशेषज्ञ उपस्थित रहेंगे।

गुरुवार, 22 नवंबर को सुबह 10.00 बजे तकनीकी सत्र का उद्घाटन किया जाएगा। पहले दिन कुल चार तकनीकी सत्र का आयोजन किया गया हैं। आईआईटी जैसे संस्थानों के छात्र विभिन्न सत्रों के पहले दिन इन कार्यशालाओं में अपने निष्कर्षपत्र प्रस्तुत करेंगे; इसी तरह, सड़क विकास क्षेत्र और निर्माण उद्यमियों के साथ वैज्ञानिक भी तकनीकी जानकारी पेश करेंगे। शाम को 8.00 बजे प्रख्यात गायक अशोक हांडे और टीम की और से संगीत कार्यक्रम पेश किया जाएगा।

सम्मेलन का औपचारिक उद्घाटन शुक्रवार, 23 नवंबर सुबह 10.30 बजे भारत सरकार के सड़क परिवहन और राजमार्ग, जहाज़रानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी के हातो किया जाएगा। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस प्रमुख अतिथी के तौर पर उपस्थित रहेंगे।

इस वक्त लोक निर्माण मंत्री चंद्रकांत दादा पाटिल, ग्रामीण विकास-महिला व बालकल्याण मंत्री पंकजा मुंडे, उर्जामंत्री चंद्रशेखर बावनकुळे, लोक निर्माण मंत्री(एमएसआरडीसी) एकनाथराव शिंदे, लोक निर्माण राज्यमंत्री प्रवीण पोटे, उर्जा राज्यमंत्री मदन येरावार, गृहराज्यमंत्री रणजीत पाटील विशेषता से उपस्थित रहेंगे। प्रमुख अतिथी के हातों से स्मरणिका और आयआरसीच्या जर्नल्स- कोड सलग्नित पुस्तकों का प्रकाशन किया जाएगा। 12.00 बजे भारत के विभिन्न राज्य के लोक निर्माण मंत्रीयों को नितिन गडकरी तथा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस संबोधित करेंगे। रस्ते और पूल निर्माण विषयों पर पॅनेल डिस्कशन का आयोजन 2.30 बजे किया गया हैं। श्याम को श्रेया घोषाल का लाईव्ह-इन-कॉन्सर्ट का आयोजन किया गया हैं।

शनिवार, 24 नवंबर को आयआरसी जर्नल्स में प्रकाशित निष्कर्षपत्रों को तकनीकी सत्रों में प्रस्तुत किया जायेगा। 11.00 बजे से 6.00 बजे के बीच में कुल सात तकनीकी सत्र होने वाले हैं। शाम के सत्र में वरिष्ठ गायक सुरेश वाडकर, साधना सरगम और अभिनेता राजू श्रीवास्तव कार्यक्रम सादर करने वाले हैं।

रविवार, 25 नवंबर को कौन्सिल की 217 वी मिटींग होने वाली हैं। उस के बाद अधिवेशन समाप्त होगा।

22 से 25 नवंबर के बीच चलने वाले इस सम्मेलन में सड़क निर्माण और संबंधित विषयों पर कुल 11 तकनीकी सत्र आयोजित किए गए हैं। इन सभी अध्ययनों के माध्यम से, ‘आरआरसी-कोड’ का निर्माण किया जाता हैं, जो भारत में सड़कों के निर्माण के मानदंड के रूप में प्रमाण माना जाता है।
इस समय सम्मेलन में लोगों के सहभाग को लेकर विशेष जोर दिया गया है। इस लिए सुरक्षा जागरूकता के क्षेत्रों में परिचालन करने वाले संगठनों के लिए कम किमत में स्टालों को उपलब्ध कराया गए हैं। गत एक महिने से लोक निर्माण विभाग द्वारा विभिन्न सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित किए गए थे। इसके अलावा, तकनीकी प्रदर्शनी आम जनता को देखने के लिए खुली होगी।

सत्र के आयोजन के लिए लोक निर्माण मंत्री चंद्रकांतदादा पाटील के नेतृत्वा में प्रधान सचिव मनोज सौनिक के दिशा निर्देश में लोक निर्माण विभाग के सचिव(रस्ते) सी.पी. जोशी आणि सचिव (बांधकाम) अजीत सगने इन के मार्गदर्शन में आयोजन समिती के अध्यक्ष मुख्य अभियंता, लोक निर्माण विभाग, उल्हास देबडवार और स्थानिक आयोजन समिती सचिव, प्रधान मंत्री ग्राम सडक योजना के अधिक्षक अभियंता रमेश होतवानी व्यवस्था पर विशेष रुप से ध्यान दे रहे हैं।