Published On : Sat, Jan 18th, 2020

64,993 डिग्रियां, और 746 विद्यार्थियों को दी गई पीएचडी की उपाधि

नागपुर– राष्ट्रसंत तुकडोजी महाराज नागपुर यूनिवर्सिटी का 107वा दीक्षांत समारोह शनिवार 18 जनवरी को संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सीजीआई शरद बोबडे, कुलगुरु सिद्धार्थविनायक काणे,समेत अन्य लोग मौजूद थे।

इस दौरान कुल 746 विद्यार्थियों को पीएचडी, और 64,993 विद्यार्थियों को ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्रियां प्रदान की गई। इस समय विद्यार्थियों को 158 गोल्ड मेडल, 9 सिल्वर मेडल,18 पुरस्कार प्रदान किए गए। डॉ.आंबेडकर इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज एंड रिसर्च की छात्रा आयुषी खंडेलवाल को एमबीए परीक्षा में 7 गोल्ड मेडल दिए गए। नागपुर यूनिवर्सिटी के डॉ.बाबासाहेब आंबेडकर विधि महाविद्यालय की छात्रा सायली भावे को बीएएलएलबी की परीक्षा के लिए 6 गोल्ड मेडल और एक पुरस्कार दिया गया।डॉ.बाबासाहेब आंबेडकर विचारधारा विभाग के सखाराम गणपत मंडपे को एमए (आंबेडकर थॉट्स ) के लिए 6 गोल्ड मेडल दिए गए।

नागपुर यूनिवर्सिटी के पोस्ट ग्रेजुएशन विभाग की माधुरी घुगुसकर को एम.एड परीक्षा में 5 गोल्ड मेडल दिए गए। नागपुर यूनिवर्सिटी पोस्ट ग्रेजुएशन रसायन विभाग की छात्रा रचना कनोजिया को एमएससी (रसायनशास्त्र ) के लिए 4 गोल्ड मेडल और एक सिल्वर मेडल दिया गया।

पीडब्ल्यूएस की छात्रा भारती शास्त्री को एम.ए (मराठी ) में 4 गोल्ड मेडल और एक पुरस्कार दिया गया। नागपुर यूनिवर्सिटी के जनसंवाद विभाग की विद्यार्थी मृणाल खोब्रागडे को बैचलर ऑफ़ जर्नलिस्म में 4 गोल्ड मेडल और 2 पुरस्कार मिले। इन विद्यार्थियों को सीजीपीए के लिए मेडल दिए गए है। सभी पुरस्कार सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश शरद बोबडे और नागपुर यूनिवर्सिटी के कुलगुरु सिद्धार्थविनायक काणे के हाथों दिए गए।