Published On : Thu, Apr 2nd, 2015

अकोला : 6 सदस्यीय प्रोमा टीम कर रही जांच


नवोदय के दो शिक्षकों द्वारा 49 छात्राओं से छेडछाड का मामला

अकोला। बाभुलगांव स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में अध्ययनरत 49 छात्राओं से विद्यालय के दो शिक्षकों द्वारा छेडछाड किए जाने के मामले में सिविल लाइन पुलिस ने धारा 354 ए तथा पास्को 9 (एफ) (10) (11) (12) के तहत अपराध दर्ज किा गया है. जबकि मामले की गंभीरता को देखते हुए अकोला के जिलाधिकारी अरूण शिंदे की अध्यक्षता में गठित 6 महिला सदस्यों की प्रोमा टीम मामले की गहराई से जांच कर रही है. इसी मामले में आज दल के सदस्यों ने जिलाधिकारी की उपस्थिति में नवोदय विद्यालय जाकर छात्राओं से सामूहिक एवं व्यक्तिगत तौर पर पूछताछ की.

ज्ञात हो कि केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा संचालित जवाहर नवोदय विद्यालय की कक्षा 12 वीं में अध्ययनरत 49 छात्राओं की ओर से उनके अभिभावकों ने मंगलवार को सिविल लाईन पुलिस थाने में शाला के दो अध्यापकों के खिलाफ छात्राओं से छेडछाड का मामला दर्ज करवाया था. राज्य महिला आयोग की सदस्य डा. आशा मिरगे की शिकायत पर सिविल लाईन पुलिस ने जांच पडताल की, जिसके बाद बुधवार को दोनों शिक्षकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. दूसरी ओर शिक्षकों की पलियों ने जिलाधिकारी, जिला पुलिस अधीक्षक एवं मानवाधिकार आायेग को लिखित पत्र देकर आरोप लगाया कि उनके पतियों को जानबूझकर साजिश के तहत फंसाया जा रहा है.

राज्य महिला आयोग की सदस्या डा. आशा अनंत मिरगे ने सिविल लाईन पुलिस थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई थी कि जवाहर नवोदय विद्यालय अकोला में कार्यरत 42 वर्षीय शिक्षक आर.डी. गजभिए एवं 50 वर्षीय शैलेश रामटेके द्वारा छात्राओं से छेडछाड की जा रही है. इस शिकायत के बाद हरकत में आई सिविल लाइन पुलिस ने जांच पडताल आरंभ कर दी है. इसी दौरान आज जिलाधिकारी स्वयं प्रोमा टीम के साथ विद्यालय पहुंचे तथा उन्होंने पीडित छात्राओं से उनकी आपबीती सुनी. गुरूवार को टीम अपनी जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी. जबकी सिविल लाईन पुलिस भी जांच पडताल कर रही है. दोनों आरोपी परिवार समेत फरार बताए जा रहे है.

Representational Pic

Representational Pic